Sun. Nov 18th, 2018

चिनिया तस्करको सरकारका संरक्षण

अमेरिकी डॉलरका तस्करी करनेवाले चिन्यनागरिक कोसरकारके महान्ययाधिवकताद्वारा कै सेसंरक्षण दियाजारहाहै इसाबातका प्रमाण पिछले दिनों देखनेकोमिला। करीब ९७हजार२२३ अमेरिकीडॉलर और११ लाख नेपाली रुपैयोंके साथ गिरफ्ता रचीनके १० नागरिकोंको अदालतके आदेशके विपरीत छोड़ने और उनसे जब्तकीगई रकम ही नहीं बल्कि अदालत द्वारा जमाकरेगए जमानतकी रकमकोभी वापसकरनेका आदेश सरकारके महान्ययाधिवाकताके तरफसेदीगयी।

अवैध तरीके से नेपालके रस्ते तिब्बत होकर चीनलेजाते समयपुलिसने१०चिनिया नागरिकके पाससे इतने बड़े पैमाने पर अवैध रूपसे अमेरिकीडॉलर और नेपाली रुपैया बरामद कियाथा। दोगाड़ियों पर सवार होकर तातोपानी नकासे चीनके तरफ जातेसमय भक्तपुरके जगती पुलिसने इन्हें गिरफ्तार कियाथा।
शारीरके नाजुक अंगोमेंभी छिपाकर रखेगए अमेरिकीडॉलरको पुलिसने शंकाके आधारपर बरामद कियाथा। रातके अँधेरेका फायदा उठाकर भागनेके चक्करमें रहे इन चिनियातस्करोंको पुलिसकी मुस्तैदीके कारन पकड़ा जासकाथा। इन से पूछताछकेबाद जैसेही इन्हें भक्तपुर जिलाअदालतमें पेश किया गयाथा वैसेहीइन चिनियातस्करोंके काठमांडूमेंरहे समर्थकोने अदालतपरिसरमें काफीहंगामा मचायाथा। पुलिसकीगाड़ी को अपने नियंत्रणमें लेकर पकडेगए तस्करोंको वहासेभगाले जानेकी फ़िराकमें रहे चिनिया नागरिको ने पुलिसपर पथराव कियाथा। इतनाही नहीं अदालत में घुसकर वहार हे सरकारी वकील के दफ्तर में भी तोड़फोड़ मचाईथी।
बादमें पता लगाकी अदालत परिसरमें चिनियाँ नागरिक औरतस्करोंद्वारा किएगए हमलेके पीछे काठमांडूस्थित चिनियाँदूतावासकी संदिग्धभूमिकाकेबारे मेंखुलासा हुआथा। तस्करों और भारीमात्रामें अवैध रूपसे तस्करीके लिएले जातेहुए अमेरिकी डॉलर पुलिस नियंत्रणमें आनेकी जानकारी मिलनेके साथही चिनियाँराजदूत और दूतावासके अन्यअधिकारीयोंकी सक्रियतादिखगई। इतनाही नहीं खुद चिनियाँ राजदूतने इस मामले में कई बार प्रधानमंत्रीतकसे मुलाकातकीथी। चिनियाँ राजदुतावास के दबाबके बाद ही प्रधानमंत्रीके सीधे आदेशके बाद महान्ययाधिवाकता ने इसमामले में सीधे हस्तक्षेप करतेहुए मामलेकी फाइलमंगाली और गैरक़ानूनी तरीके से न सिर्फ तस्करोंको हिरासतसे मुक्त करादिया बल्कि अदालती  आदेशकी धज्जियाँउड़ातेहुए उनकेद्वा राजमाकरायेगए जमानतकी सभीर कमवापसकरवाई औरतस्करीके अवैध अमेरिकी डॉलरभी वापसकरदी। इस कार्यसे प्रधानमंत्रीकी व्यक्तिगत छवि पर काफी ख़राब असर पड़ा है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of