Wed. Oct 17th, 2018

चुनाव काे लेकर राजपा में अब भी असमंजस की स्थिति बरकरार

७ भदौ, काठमाडौं ।

 

राष्ट्रीय जनता पार्टी ने माना है कि  संविधान संशोधन विधेयक असफल हाेने के बाद भी मुद्दा स्थापित हुअा है ।

 

संशोधन विधेयक फेल हाेने के बाद   राजपा की पदाधिकारी बैठक मंगलबार  हुई जिसमें १३३ पदाधिकारी में से ९८ उपस्थित थे ।

बैठक में बाेलने वाले  ५३ पदाधिकारी  में से  अधिकांश ने प्रदेश २ के चुनाव में जाने पर जाेर दिया ।  मनिष सुमन, कौशलेन्द्र मिश्र, देवेन्द्र यादव अादि ने चुनाव में नहीं जाने की बात रखी ।

राजपा की बैठक में संविधान संशोधन के पक्ष में मत देने वालाें काे धन्यवाद दिया गया अाैर विपक्ष में देने वालाें काे मधेश विराेधी  अाैर राष्ट्रिय एकता, समावेशीता तथा उत्पीडिताें के आन्दोलन विरोधी   हाेने की बात कही गई ।

राजपा के नेताअाें ने कहा कि  संविधान संशोधन फेल  हाेने के बावजूद यह ताे अवश्य हुअा कि मधेश मुद्दा स्थापित  हुअा है  क्याेंकि पहले १०/११ प्रतिशत संशोधन के  पक्ष में थे अाैर अाज  ६२/६३ प्रतिशत हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of