Sat. Oct 20th, 2018

जनकपुर में सार्वजनिक सुनवाई,सिंघानिया हत्या काण्ड अभीभी विचाराधीन

pooliceकैलास दास,जनकपुर,कार्तिक १९ । जिला प्रहरी कार्यालय धनुषा ने जनकपुर में पहली बार नागरिक सुनुवाई कार्यक्रम किया है ।
कार्यक्रम मेंं सहभागीयों ने  प्रहरी द्वारा हो रहे अनियमितता एवं कमी कमजोरी के बारे में विशेष बहश किया था ।  जिला प्रशासन कार्यालय में हो रहा आर्थिक अनियमितता प्रहरी द्वारा असुली सहित के सवाल पर जमकर आवाज उठाया था ।

जनसरोकार के विषय मे रहे ग्यास की सहज आपूर्ती, ट्राफिक प्रहरी द्वारा असुली, कोई भी घटना की सूचना प्रहरी द्वारा छिपाने की बात सहित के सवालो पर सहभागीयों ने बहस किया था ।

विशेषकर २०६६ साल फागुन १७ गते सञ्चार उद्यमी अरुण सिंघानीया हत्या काण्ड के विषय में सहभागी द्वारा आवाज उठाने पर भी प्रशासनिक निकाय से कोई जवाब नही आया है । धनुषा के प्रहरी उपरीक्षक गणेश बहादुर थापा से सवाल पर सवाल करने पर भी अभी अनुसन्धान के क्रम में है कहा गया था । जबकि इससे पहले का प्रहरी उपरीक्षक उत्तम राज सुवेदी ने पत्रकार सम्मेलन करके कहा था कि अरुण सिघानीया हत्या काण्ड का ८० प्रतिशत काम हो चुका है । अब जो भी एसपी आऐगा सार्वजनिक कर देगा ।

कार्यक्रम में सहभागीयों ने प्रहरी के विभिन्न युनिट से मासिक रुप में रुपैया असुली करने का आरोप लगया था । उसके प्रतिउत्तर में उपरीक्षक थापा ने कहा कि अगर कोई भी व्यक्ति प्रमाणित कर देगा तो हम उसपर कडी से कडी कारवाई करेगें ।

जिला प्रहरी कार्यालय द्वारा आयोजित सार्वजनिक सुनुवाई में जिला प्रशासन कार्यालय में हो रहा भ्रष्टाचार के बारे मे सहभागियो ने खुलकर प्रश्न किया था । एमाआरपी में व्यापक भ्रष्टाचार, नागरिकता के प्रतिलिपि और नयाँ नागरिकता बनाने में समेत आर्थिक लेनदेन, मालपोत, नापी जैसा कार्यालय मे व्यापक भ्रष्टाचार होने के बाद भी प्रमुख जिला अधिकारी ने कुछ नही करने का सिकायत लोगों ने किया था ।

जवाब में धनुषा के प्रमुख जिला अधिकारी कृष्णप्रसाद ढुङ्गाना ने कहा कि कार्यालय मे रहे  कमीकजोरी मे सुधार हुआ है उन्होने स्वीकार किया है । उन्होने यह भी कहा कि किसी प्रकार का प्रमाण है तो हमे उपलब्ध कराबें ।

सशस्त्र प्रहरी उपरीक्षक रविन्द्र ठाकुर ने कहा कि हम प्रहरी उपरीक्षक होते हुए भी जनता के चौकीदार है । सशस्त्र प्रहरी के चित्तरवित्तर पोशाक और बडा हतियार अपराधी को निरुत्साहित करता है तो सार्वसाधारण को हौसला देने का  कार्य करता है । उन्होने अपना मोवाईल नम्वर देते हुए कहा कि अगर किसी भी जनता को सुरक्षा सम्बन्धी कठिनाई हो तो हमें इस नम्वर पर फोन करे । २४ घण्टा सुरक्षा देने के लिए हम तैयार है ।

कार्यक्रम में नागरिक समाज, बुद्धिजीवि, पत्रकार, समाजसेवी, व्यापारी की सहभागिता थी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of