Sat. Sep 22nd, 2018

जाने कैसा होगा मेष राशि वालों के लिए साल

राशि फल 2018: जाने कैसा होगा मेष राशि वालों के लिए सालराशि फल 2018: जाने कैसा होगा मेष राशि वालों के लिए साल
2018 शुरू होने जा रहा है, नये साल में राशियों पर पड़ने वाले प्रभाव को जानने के लिए उत्‍सुकता होगी। पंडित विजय त्रिपाठी से जाने मेष राशि के बारे में।

मेष राशि अक्षर

चू चे चो ला ली लू ले लो और अ से शुरू होने वाले नाम मेष राशि वालों को प्रस्‍तावित किए जाते हैं। साल 2018 में इनका जीवन कैसा होगा इस बारे में जानने के क्रम में आज जानेंगे मेष राशि वालों के बारे में। इस वर्ष इनको मानसिक और शारीरिक उलझनों से कुछ परेशानी रहेगी आर्थिक मामलों में अगर सतर्कता बरती जाय तो लाभ संभावित है। वर्ष के उत्तरार्ध में परेशानियों में कुछ इजाफा होगा जिसके कारण परिश्रम का अनुकूल परिणाम नहीं मिलेगा और खीझ पैदा होगी राजकीय पक्ष से भी कुछ परेशानी हो सकती है। अतः राजकीय मामलों में आपको चाहिए कि बहुत सतर्कता से काम लें। वर्ष के पूर्वार्ध में ग्रहों के अनुकूल प्रभाव से यह समय शुभप्रद है। प्रगति के अवसर मिलेंगे, विदेश  यात्रा का योग है,  यश प्रतिष्ठा का लाभ मिलेगा।

 

महीनों के हिसाब से राशि पर प्रभाव

मेष राशि वाले मई जून मास में थोड़ी सतर्कता बरतें कुछ कष्टजन्य स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। अप्रैल सितम्बर नवम्बर मास में उच्चपद की प्राप्ति, नवीन कार्य का शुभारम्भ, राजनैतिक पक्ष में प्रभावी होंगे, आर्थिक व्यापारिक क्षेत्र में संतुष्टि, उच्चवर्ग का सहयोग मिलेगा। प्रशासनिक सहयोग मिलेगा। वर्ष के  पूर्वार्ध में सोची योजना को क्रियान्वित कर सकते हैं।

शिक्षा और प्रतियोगिता के क्षेत्र में असर

इस वर्ष परिश्रमी छात्रों को निश्चय सफलता मिलेगी अप्रैल सितम्बर नवम्बर मास में प्रवेश परीक्षा, साक्षात्कार व प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। मई जून मास में आलस्य की स्थिति बनेगी जो हानिकारक हो सकती है। शैक्षिक क्षेत्र में अपने अध्ययन हेतु एक नियमावली बना लें और उसी के अनुरूप कार्य करें। अस्त व्यस्त रहना अहितकर है।

 

आर्थिक क्षेत्रों पर प्रभाव

उत्तम ग्रहचाल से यह वर्ष मेष राशि वालों के लिए आर्थिक दृष्टिकोण से सुदृढ़ रहेगा, परन्तु शनि के कारण धन के स्थायित्व में कमी आयेगी धन का संचय न हो पायेगा। भविष्य के प्रति व्यापारिक स्थितियों का ताना बाना तो बुनेंगे परन्तु उन पर जुट कर कार्य न कर पायेंगे जिसके कारण धन हानि संभव है। इस वर्ष किसी भी नये व्यापार को करने के पूर्व भली भांति उसकी एक योजना बना लें और उसे पूरी तौर पर पुनः आंकलन कर के ही आगे कार्य करें। यदि नौकरी में हैं तो अपने वरिष्ठ तथा कनिष्ठ लोगों से न उलझने में ही भलाई है। अप्रैल सितम्बर नवम्बर मास  में पूंजी निवेश लाभप्रद रहेगा। इन शुभ माह में आकस्मिक धन प्राप्ति का योग भी है और फंसा हुआ धन वापस मिलेगा। मई जून मास में भूलकर भी आर्थिक लेन देन न करें अन्यथा हानि संभावित है। यदि शेयर का कारोबार करते हैं तो वर्ष के पूर्वार्ध में भूलकर भी केमिकल, लोहा, मशीनरी बनाने वाली कंपनियां, रबर, टायर और सिंथेटिक के शेयर्स में पैसा न लगायें। शनि की अशुभ स्थिति के कारण इनमें हानि की प्रबल संभावना है। राष्ट्रीय बचत पत्र, जमीन, और मकान आदि की खरीदारी कर सकते हैं, इनमें निवेश करने पर भविष्य में अच्छे लाभ की स्थिति बनेगी।

स्वास्थ्य एवं परिवार के क्षेत्र में

पारिवारिक माहौल अनुकूल रहेगा, दाम्पत्य जीवन में पत्नी से मीठी चुहल के साथ साथ कभी वाक्युद्ध की नौबत आ सकती है। परिवार के प्रति बहुत ज्यादा जिम्मेदारियां निभाना उन्हें नागवार गुजर सकता है अतः पत्नी और परिवार के बीच संतुलन कायम रखने के लिए बहुत सूझबूझ से काम लेना होगा। बच्चों की शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दें। वर्ष के पूर्वार्ध व उत्तरार्ध में धार्मिक मांगलिक कार्यों का सम्पादन करेंगे, भौतिक सुख साधनों में वृद्धि होगी। मई जून मास में रोग ग्रस्तता जैसे  बुखार, चर्मरोग आदि से कष्ट रहेंगे। पड़ोसियों से वाद विवाद और व्यय की अधिकता रहेगी। सामाजिक प्रतिष्ठा कायम रहेगी। नवम्बर अक्टूबर मास में पत्नी व संतान पक्ष से अधिक चिन्तित रहेंगे।

 

ये हैं शुभ तारीखें

जनवरी-3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 14, 15, 16, 17, 18, 19, 20, 24, 25, 26, 27, 28, 29। फरवरी-1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23, 24, 25, 26। मार्च-1, 2, 3, 4, 5, 6, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 20, 21, 22, 23, 24, 25, 29, 30, 31। अप्रैल-1, 2, 3, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 25, 26, 27, 28, 29, 30। मई-4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 14, 15, 16, 17, 22, 23, 24, 25, 26, 27। जून-1, 2, 3, 5, 6, 10, 11, 12, 13, 14, 18, 19, 20, 21, 22 23, 27, 28, 29। जुलाई-1, 2, 3, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 16, 17, 18, 19, 20, 25, 26, 27, 28, 29, 30। अगस्त-1, 2, 3, 5, 6, 7, 8, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23, 24, 25, 26, 27। सितम्बर-1, 2, 3, 4, 5, 9, 10, 11, 12, 13, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27, 28, 29, 30। अक्टूबर- 1, 2, 3, 6, 7, 8, 9, 10, 15, 16, 17, 18, 19, 20, 23, 24, 25, 26, 27, 28, 29। नवम्बर-1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23, 24, 25, 29, 30। दिसम्बर-1, 2, 3, 4, 8, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27, 28, 29, 30, 31। उपरोक्त तारीखों के अलावा किसी भी दिन कोई भी नया कार्य, पैसे का लेन देन, शेयर, सट्टा, लाटरी अथवा कोई भी महत्वपूर्ण कार्य न करें।

 

अनुकूल रत्न

मेष राशि वाले सोने की अंगूठी में मूंगा 8 रत्ती का अथवा उपरत्न संगमूंगी 8 रत्ती का अनामिका उँगली में मंगलवार के दिन और अनुराधा नक्षत्र में नागजिव्हा अथवा अनंतमूल की जड़ तांबे के ताबीज में मंगलवार को धारण करें।

 

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of