Wed. Nov 21st, 2018

ज्ञानेन्द्र शाह को विदेशी किस हैसियत से मिलते हैं– गृहमन्त्री निधि

काठमांडू, पौष ८ ।
पूर्व राजा ज्ञानेन्द्र शाह को विदेशी किस हैसियत से मिलते हैं, कहते हुए उपप्रधान तथा गृहमन्त्री विमलेन्द्र निधि ने मन्त्रिपरिषद में ही प्रश्न उठाया है ।
king-gyanendra
पूर्व राजा ज्ञानेन्द्र ने राजनीतिक दल तथा जनआन्दोलन के उपलब्धि प्रति प्रश्न उठाते हुए वक्तव्य देने के दुसरे दिन वृहस्पतीबार को हुई मन्त्रिपरिषद में पिछ
ली घटनाक्रम के विषय में गहन विमर्श हुआ था ।
संविधान संशोधन प्रस्ताव का विरोध करते हुए हो रही आन्दोलन तथा एमाले के नेताओं द्वारा दिया जा रहा अभिव्यक्ति का चर्चा करते ुहए प्रधानमन्त्री प्रचण्ड ने पूर्व राज के वक्तव्य को विश्लेषण करते हुए कहा कि ये परिवर्तन को उलटाने का षडयन्त्र है ।
वहीं बैठक में उपप्रधान एवम् गृहमन्त्री विमलेन्द्र निधि ने दरबार हत्यकाण्ड की छनविन का प्रसताव रखा । उन्होंने चिनियाँ पूर्व राजा को किस हैसियत से मिल रहें हैं कहते हुए प्रश्न किया । चिनियाँ के साथ भारतीय भी ज्ञानेन्द्र से भेंट कर रहें हैं कहते हुए गृहमन्त्री निधि ने कहा कि एक आम नागरिक के हैसियत से मिल रहें हें तो ठिक है लेकिन पूर्व राज के हैसियत से मिल रहें हैं तो हमारी आपत्ति है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of