Fri. Dec 14th, 2018

दक्षिण एसियाई गीत’ की अपरिहार्यता

हिमालय से हिंद तक, नागा हिल्स से हिंदुकुश
महाबेली से गंगा तक, सिंधु से ब्रहृमपुत्रkt
लक्षद्वीप, अंडमान, एवरेस्ट, एडम्स पीक
काबुल से थिम्पु तक, माले से काठमांडू
दिल्ली से ढाका तक, कोलम्बो, इस्लामावाद
हर कदम साथ-साथ, हर कदम साथ-साथ
जोंखा, हिन्दी, नेपाली, बांग्ला, पश्चतो, सिंहला
उर्दु , इंग्लिश, धोवेही, हर कदम साथ-साथ
अपनी-अपनी पहचान, अपने-अपने अरमान
शान्ति की बात-बात, कर कदम साथ-साथ
हर कदम र्सार्क-साथ, हर कमद साथ-र्सार्क
हर कदम र्सार्क-साथ, हरक कदम साथ-र्सार्क ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of