Mon. Oct 22nd, 2018

दाे साल में ग्यारह शादियाँ गिरफ्त में अाई लुटेरी दुल्हन

साफुंग (थाइलैंड)। 

बॉलीवुड की फिल्‍म ‘डौली की डोली’ की कहानी दूर थाइलैंड में हकीकत में बदल गयी जब एक युवती ने 11 युवकों से शादी कर उन्‍हें लूटने के बाद धन लेकर फरार हो गयी।

थाई मीडिया के अनुसार, थाई परंपरा का निर्वाह करते हुए प्रत्‍येक शख्‍स ने युवती को दहेज में एक निश्‍चित रकम दी जिसके बाद सारा धन समेट वह लापता हो गयी। हर एक शख्‍स से उसने झूठी कहानियां बनाकर 6,000 से 30,000 डॉलर तक की रकम वसूली।

पुलिस ने स्‍थानीय मीडिया को बताया कि वह इतनी चालाक युवती थी कि केवल अगस्‍त माह के दौरान उसने चार बार शादियां की। शुरुआत में पुलिस को 12 शिकायतकर्ता पीड़ित मिले पर बाद में यह संख्‍या 11 हो गयी। रिपोर्टों के अनुसार, यह चेतावनी फेसबुक पर किसी एक पीड़ित शख्‍स ने की। बैंकॉक पोस्‍ट व अन्‍य थाइ मीडिया के अनुसार, इसके बाद ही तमाम पीड़ित पुलिस के पास पहुंचे और बताया कि किस तरह वह युवती के झांसे में फंसे। jariyaporn buayai नामक महिला पर आरोप नहीं लगाया गया है और जांच जारी है।

फेसबुक पर वह युवक से दोस्‍ती करती है, मुलाकात करती है, शारीरिक संबंध बनाती है और फिर शादी कर पैसे के साथ फरार हो जाती है। उसे ‘रनअवे ब्राइड’ के नाम से बुलाया जा रहा है। 32 वर्षीय प्रासर्न तियामयम ने अपनी आपबीती पुलिस को बतायी।

प्रासर्न की युवती से दोस्‍ती 2015 के फरवरी में फेसबुक पर हुई। उसने अपना नाम नम्‍मोन (Jariyaporn “Nammon” Buayai) बताया। 9 माह के बाद उसने प्रासर्न से गर्भवती होने की बात कही तब वह शादी के लिए सहमत हो गया। वे एक रिसार्ट में गए जहां 6,000 डॉलर की रकम बतौर दहेज में युवती को दिया। नेशन के अनुसार, इसके तुरंत बाद ही युवती फरार हो गयी।

प्रासर्न के अनुसार, नम्‍मोन अपने माता-पिता के साथ उसकी मुलाकात से इंकार करती थी। शादी के मात्र चार दिन के बाद ही वह यह कह कर भागी कि उसे नोंग खाई में अपने फलों के बिजनेस के लिए डील करना है।

इसके कुछ ही दिन बाद प्रासर्न को एक महिला का फोन आया जिसने कहा कि वह नम्‍मोन की भतीजी है और नम्‍मोन का बच्‍चा खत्‍म हो गया इसलिए अब प्रासर्न उससे मिलने की कोशिश न करे।

गुरुवार रात को पुलिस ने जरियापोर्न बुयाई और उसके वास्‍तविक पति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि इस गिरोह में और भी सदस्‍य हो सकते हैं। आरोपी युवती का कहना है कि उसका मकसद लोगों को धोखा देना नहीं था। उसने आगे बताया कि 11 नहीं बल्‍कि 7 ही युवक इस घटना में हैं और इन्‍होंने अपनी मर्जी से उसके पारिवारिक फल के व्‍यापार में निवेश किया। पुलिस युवती के माता-पिता से पूछताछ करना चाहती है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of