Wed. Nov 14th, 2018

धनुषा के उमेश यादव को मिला जीवन दान, मृत्यदण्ड से मिला माफी

काठमांडू, २६ अप्रिल । साउदी अरब में मृत्युदण्ड के भागीदार बने उमेश यादव को नयां जीवन मिला है । पाकिस्तानी नागरिक की हत्या अभियोग में यादव १२ साल से साउदी स्थित जुवेल जेल में बन्दी जीवन जी रहे थे । यादव धनुषा जिला स्थित कमला नगरपालिका–३ झिटकैया निवासी हैं । यादव ने सन् २००७ जुलाई ३ के दिन अपने ही सहकर्मी पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद लतिफ बसिर की हत्या की थी । बिन लादेन कम्पनी में कार्यरत दोनों ह्युम फाइप निर्माण संबंधी काम करते थे ।


अन्ततः फैसलावाद (पाकिस्तान) स्थित पीडित परिवार उमेश को माफी दिने (ब्लडमनी स्वीकार करने) के लिए राजी हुए हैं । उमेश की ओर से क्षमा मांगने के लिए पहुंचे सरोज राय और पीडित परिवार के बीच सौहार्दतापूर्ण वातावरण में बातचीत हुई थी । विचार–विमर्श के क्रम में पीडित पक्ष उमेश को माफी देने के लिए बुधबार तैयार हुए हैं । पीडित पक्ष को पीडक पक्ष ब्लडमनि देने के लिए भी तैयार हुए हैं ।
६ साल पहले ही स्थानीय अदालत ने उमेश को मृत्युदण्ड की फैसला की थी । अन्ततः पीडित परिवार ने ही उमेश को जीवनदान दिया है । दो परिवार को मिलाने के लिए पाकिस्तानी वकिल मुहम्मद नुक्वास ने भी अपनी ओर से भूमिका निर्वाह की । ब्लडमनी स्वीकार रकने के बाद नुक्वास ने कहा है कि पाकिस्तानी नागरिक का दिल बड़ा होता है, आज यह प्रमाणित हुआ है । उमेश की जीवन रक्षा के लिए काठमांडू से फैसलावाद पहुँचे सरोज राय ने खुशी व्यक्त किया है । उन्होंने कहा है कि अपनी मिस आज सफल हो गया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of