Mon. Nov 19th, 2018

निःशुल्क प्रसुति सेवा:भोला बानिया

निजी क्षेत्र द्वारा संचालित युनिवर्सल काँलेज आँफ मेडिकल साइन्सेज शिक्षण अस्पताल भैरहवा ने सिर्द्धार्थनगर स्थित शिक्षण अस्पताल एवं जिला जनस्वास्थ्य कार्यालय रूपन्देही के बीच सम्न्वयन स्थापित करते हुए मातृ शिशु और मातृ सुरक्षा कार्यक्रम के अर्न्तर्गत प्रस्तुति सेवा निःशुल्क किया । स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय की स्वीकृति मिलने के बाद शिक्षण अस्पताल भैरहवा के प्रमुख अजय कु.पी.एस. तथा जिला जनस्वास्थ्य कार्यालय के महेश्वर प्रसाद श्रेष्ठ ने उक्त निःशुल्क सेवा प्रदान किये जाने वाले सम्झौते पत्र पर हस्ताक्षर किया । अब अस्पताल में सभी प्रकार की प्रसूती सेवा निःशुल्क दी जाएगी, चाहे वह सेवा जटिल हो या शल्यक्रिया द्वारा की गई हो ।
प्रसुतियों के आवागमन करने के लिए नेपाल सरकार द्वारा निर्धारित खर्च भी मेडिकल काँलेज उपलब्ध कराएगा । पैसे के अभाव में होने वाली मृत्युजन्य घटना, स्वास्थ्य में गडÞबडी और अन्य समस्याओं को मध्येनजर रखते हुए सरकारी अस्पतालों में प्रसुती सेवा को निःशुल्क किया गया है । सरकार ने यह सेवा निजी अस्पतालों में भी विस्तार करके मातृ शिशु मृत्युदर कम करने का लक्ष्य रखा  है । लुम्बिनी अंचल अस्पताल के प्रशासकीय अधिकृत नरेश ज्ञावली ने कहा, ‘मुक्तिनाथ श्री स्वमी जी का कहना है कि यह निःशुल्क सेवा ख्यात्रि्राप्त, अनुभवी, तालिमप्राप्त महिला और प्रसुती विशेषज्ञों के द्वारा दिया जाएगा । आज के दिन में निःशुल्क सुरक्षित प्रसुति सेवा से लुम्बिनी अंचल के महिलाओं को अत्यधिक लाभ पहुँचेगा । सन् २००० में स्थापित सिर्द्धार्थनगर शिक्षण अस्पताल में चार वर्षपहले गिरकर आहत दर्ुइ महिला को चार वर्षसे उक्त अस्पताल में निःशुल्क शल्यक्रिया चल रहा है ।
लुम्बिनी में पर्यटकों की संख्या में वृद्धि

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of