Mon. Nov 19th, 2018

निर्मला पन्त हत्या प्रकरणः आशंका डीएपी और मेयर के ऊपर !

कैलाली, २५ अगस्त । गत श्रावण १० गते भीमदत्त नगरपालिका–२ निवासी १३ वर्षीया निर्मला पन्त को बलात्कार करके हत्या की गई । उक्त घटना को लेकर कैलाली तनावग्रस्त है और वहां अनिश्चिकालीन कफ्र्यु आदेश जारी है । कारण है, बलात्कार और हत्या में संलग्न दोषी का पहचान न होना और पुलिस प्रशासन की लापरवाही । पीडित परिवार पहुँचविहीन और गरीब होने के कारण पुलिस प्रशासन ने बलात्कारी और हत्या में संलग्न अभियुक्त को पहचान करने के लिए कुछ भी नहीं किया । जब स्थानीय ने आन्दोलन तीव्र बनाया तो पुलिस ने मानसिक रोगी दिलिपसिंह विष्ट को बलात्कारी और हत्यारा के रुप में सार्वजनिक किया, जिसमें स्थानीयबासी विश्वस्त नहीं हैं ।
आज आकर स्थानीयबासी आपना मूंह खोलने लगे हैं । स्थानीयबासियों का आशंका है कि निर्मला पन्त के बलात्कार और हत्या में कैलाली जिला के पुलिस प्रमुख डीएसपी डिल्लीराज विष्ट के पुत्र और भीमदत्त नगरपालिका के मेयर सुरेन्द्र विष्ट के भतीज संलग्न हैं । स्थानीयों का कहना है कि उन लोगों के ऊपर छानबीन किया जाए । लेकिन पुलिस प्रशासन इसके लिए ईमानदातिरा से राजी नहीं हैं । जिसके चलते पुलिस ने मानसिक रोगी दिलिपसिंह को बलात्कारी करार देकर सार्वजनिक किया ।
स्थानीयबासियों का यह भी कहना है कि उक्त घटना में भीमदत्त नगरपालिका–१८ निवासी बबिता बम और रोशन बम भी शामील हो सकते हैं । उन लोगों का मानना है कि डीएसपी पुत्र और मेयर के भतीज उन लोगों के घर में बारबार आते–जाते थे । और निर्मल उस दिन अपने मित्र रोशनी के घर में होमवर्क करने के लिए और नोटबुक लेने के लिए गई थी । लेकिन वह अपने घर वापस नहीं हो पाई और अगले दिन उनकी शव उखू बारी में मिल गई । स्थानीयबासियों का कहना है कि डिएसपी डिल्लीराज विष्ट और मेयर सुरेन्द्र विष्ट के कारण ही असली अपराधी गिरफ्तार नहीं हो पा रहे हैं । स्थानीयबासियों ने मेयर विष्ट के घर में शुक्रबार तोड़फोड किया है, अभी वहां पुलिस परिचालित कर घर को सुरक्षा प्रदान किया गया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of