Tue. Nov 13th, 2018

नील आर्मस्टङ के साथ चन्द्रमा पर गये दुसरे आन्तरिक्ष यात्री बज अल्ड्रिन आज नेपाल आ रहें

काठमाण्डू, भाद्र २०

चन्द्रमा पर पेर पेे रख चूके ८७ वर्षिय जीवित आन्तरिक्षयात्री बज अल्ड्रिन आज नेपाल आरहें हैं । मंगलबार सुनसरी जिला के अमाहीबेन्हा सीतागंज स्थित एभरेष्ट साइन्स सेन्टर का आवलोक करने का अल्ड्रिन का कार्यक्रम रहा है ।

chandrama

बुधबार एवम् बृहस्पतिबार को आन्तरिक्षयात्री अल्ड्रिन काठमांडू स्थित प्रज्ञा भवन में आयोजना कियेजाने वाली अन्तरक्रिया कार्यक्रम में अपना अनुभव भी सुनाएगें ।

उनके सथा अन्य पाँच लोग सहित छः सदस्यीय टोली पाँच दिनों तक नेपाल में रहेगी । उनके साथ मंगलग्रह में बस्ती बसाने का योजना के अध्यक्ष समेत रहें अल्ड्रिन के पुत्र डा. एन्ड्रयु अल्डिभ, नासा के अध्यक्ष एजिलावेथ लेवल्याङ एवम् वरिष्ठ वैज्ञानिक जोसेफ लेवल्यागं भी है ।

गौरतलब है, सन् १९६९ मे अपोलो ११ आन्तक्षि यान मार्फत अमेरिकी नागरिक निल आर्मस्टङ के नेतृत्व में नासा की एक टोली चन्द्रमा में पहली बार कदम रखा था । चन्द्रमा में पहुँच मानव पेेर रखने वाले नील के साथ दुसरे यात्री थें बज अल्ड्रिन और उन के साथ माइकल कोलिन भी थें । तीन यात्रियों में नील का देहान्त हो चूका है । वहीं बज व माइकल जीवित हैं ।

एभरेष्ट साइन्स सेन्टर के निदेशक दिलीप अधिकारी के मुताविक अल्ड्रिन मंगलबार बडे संख्या में उपस्थित विद्यार्थिायों को अपना चन्द्रमा में पएर रखने का अनुभव सुनाने के साथ साथ चन्द्रमा में बस्ती बसाने के योजना के विषय में भी प्रष्ट करेगें ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of