Tue. Oct 23rd, 2018

नेपालगन्ज में निशान उत्सव

DSC07738नेपालगन्ज,(बाँके) पवन जायसवाल, २०७१ फाल्गुन १८ गते ।
बाँके जिला के नेपालगन्ज बाजार में मारवाडी सेवा परिषद ने भव्यता के साथ निशान उत्सव का आयोजन किया ।
फाल्गुन १७ गते आइतवार को निशान उत्सव का आयोजन करके विशाल रैली प्रदर्शन करते हुयें नेपालगन्ज बाजार में आइतवार को ही निशान उत्सव भव्यता के साथ निशान उत्सव मनाया ।
मारवाडी सेवा परिषद् ने नेपालगन्ज उपमहानगरपालिका –१३ शीतलनगर में निर्माण किया नवनिर्मित मारवाडी मन्दिर में फाल्गुन ९ गते शनिवार से सञ्चालित ‘हनुमत कथा’ को समापन के साथ निशान उत्सव मनाया ।
कलियुग के देवता श्याम बाबा, राणी सतिदादी और श्री बालाजी की मूर्ति स्थापना करने के एक दिन पूर्व नेपालगन्ज बाजार में निशान उत्सव का आयोजन किया गया नवनिर्मित मारवाडी मन्दिर सञ्चालक समिति के प्रवक्ता आशीष अग्रवाल ने बताया ।
???????????????????????????????बाके जिला के नेपालगन्ज बाजार में पहली बार भारत के राजस्थान से ६ लाया गया था उस ६ ऊ“ट के उपर सवार कराया गया विभिन्न देवकन्याओं को नगर भर में दर्शन और परिक्रमा कराते हुयें मन्दिर परिसर से निकाला गया विशाल शोभा यात्रा सहित की निशान उत्सव नगर के ४ बाहिनी चौक, गणेशमान चौक, बी.पी. चौक, धम्बोझी चौक, सेतु बि.क. चौक, त्रिबेणी मोड, त्रिभुवन चौक, भेरी अञ्चल अस्पताल होते हुयें  बाजागाजा के साथ रैली निकाला गया था ।
रैली में पञ्चेबाजा, नेपाल प्रहरी ब्याण्ड, मयूर की ना“च , थारु संगीत सहित विभिन्न सा“स्कृतिक विविधता दिखनेवाला प्रस्तुति सहित की झा“की निकली थी । मौसम के कारण से वीच बीच में शोभायात्रा में सहभागी अधिका“श महिलाए“, बालबालिका तथा जेष्ठ नागरिक लोग खाली पैर में ना“चगान के साथ में नगर परिक्रमा कियें थे ।
रैली में सभी लोग हाथहाथ में झण्डा लियें हुयें सयौं के संख्या में रहे मारवाडी समुदाय के महिलाए“, बालबालिकाए“ शोभायात्रा में उत्साह और उमंग के साथ सहभागी हुयें थें ।
???????????????????????????????पहलीे बार पटक नेपालगन्ज बाजार में मारवाडी समुदाय का संस्था मारवाडी परिषद् के अध्यक्ष तथा व्यापारी सतीश चन्द्र अग्रवाल ने निर्माण की अन्तिम चरण में पहु“चकर मन्दिर में आज श्याम बाबा मूर्ति की प्राण प्रतिस्थापन करने की कार्यक्रम रही है जानकारी दिया ।
अध्यक्ष सतीश चन्द्र अग्रवाल ने हम लोगों ने सोंचा था उसे अधिक लोगों की जनसहयोग में निर्माण किया गया मन्दिर लगायत सेवा सदन एक हजार से अधिक क्षमता की सुविधा सम्पन्न सभागृह और आवास गृह समेत होगी उन्हों ने बताया ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of