Tue. Nov 13th, 2018

पर्यटकाे‌ं काे हाथी के सहारे सुरक्षित जगहाें पर ले जाया जा रहा है

१४अगस्त

चितवन नेशनल पार्क से लगे सौराहा इलाके में देश-विदेश के तकरीबन 600 पर्यटक फंसे हुए है‌। इनमें से 300 को हाथियों और ट्रैक्टर के जरिये सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है। बाढ़ और भूस्खलन से अब तक 78 लोगों की मौत हो चुकी है। देश के 75 में से 26 जिले बाढ़ की चपेट में हैं।

चितवन नेशनल पार्क विदेशी पर्यटकों के बीच गैंडों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। भारत और चीन के अलावा अन्य देशों के पर्यटक भी बड़ी तादाद में यहां आते हैं। पर्यटक सौराहा में ही ठहरते हैं। सौराहा होटल मालिकों के संगठन के प्रमुख सुमन घिमिरे ने बाढ़ में फंसे 300 पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर भेजे जाने की जानकारी दी है।

लगातार हो रही भारी बारिश के कारण राप्ती नदी उफान पर है। बाढ़ का पानी सौराहा के होटलों और रेस्तराओं में घुस गया है। जंगली जानवर ऊपरी इलाकों की ओर भागने लगे हैं। नेपाल के संचार मंत्री मोहन बहादुर बसनेत ने मरने वालों की तादाद और बढ़ने की आशंका जताई है। उन्होंने पचास लोगों के लापता होने की जानकारी दी है। बसनेत के मुताबिक 60 हजार से ज्यादा घरों में पानी घुस गया है। देश के दक्षिणी हिस्से के बाढ़ की चपेट में आने से सैकड़ों एकड़ में लगाई गई धान की फसल नष्ट हो गई है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of