Wed. Nov 14th, 2018

पाेर्नग्राफी गिराेह का भंडाफाेर सीबीअाई ने लिया हिरासत में

२३फरवरी

देश-विदेश में बच्चों के आपत्तिजनक विडियो और फोटो वॉट्सऐप ग्रुप पर शेयर करने के मामले में  भारत में सीबीआई ने कन्नौज से निखिल वर्मा नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि निखिल वॉट्सऐप ग्रुप का ऐडमिन था। निखिल कॉमर्स से ग्रैजुएशन कर रहा है। गिरफ्तारी से पहले दिल्ली सीबीआई की टीम ने दिल्ली में मामला दर्ज किया और एक साथ यूपी, दिल्ली और महाराष्ट्र के कई ठिकानों पर छापेमारी की। छापों में बड़ी संख्या में लैपटॉप, मोबाइल फोन, टैबलट और बच्चों से जुड़ी आपत्तिजनक सामाग्रियां बरामद हुई हैं।

सीबीआई के मुताबिक शिकायत मिली थी कि एक वॉटसऐप ग्रुप पर बच्चों की कई अश्लील फोटो और विडियो शेयर किए जा रहे हैं। इस ग्रुप में 100 से ज्यादा भारतीय और अमेरिका, चीन, न्यूजीलैंड, मैक्सिको, अफगानिस्तान, पाकिस्तान समेत 18 देशों के लोग जुड़े हुए हैं। सीबीआई ने इस मामले में बुधवार को दिल्ली में पांच लोगों के खिलाफ आईटी ऐक्ट की धारा 67बी के तहत मामला दर्ज कर टीमें गठित कीं। इसके बाद यूपी में नोएडा और कन्नौज, दिल्ली और महाराष्ट्र के पांच ठिकानों पर छापेमारी की गई।

बच्चों की तस्करी और यौन शोषण का रैकेट तो नहीं!
सीबीआई इस बात की पड़ताल कर रही है कि कहीं यह ग्रुप बच्चों की तस्करी और यौन शोषण से जुड़ा अंतरराष्ट्रीय रैकेट तो नहीं है। सीबीआई पांच ठिकानों में की गई छापेमारी से बरामद हुए गैजट्स की पड़ताल कर रही है। इसका पता लगाया जा रहा है कि वॉटसऐप ग्रुप में बच्चों के जो अश्लील विडियो और फोटो शेयर किए जा रहे थे उन्हें कहां तैयार किया जा रहा था। आईटी ऐक्ट के तहत वॉटसऐप ग्रुप पर इस तरह के अश्लील विडियो रखना और शेयर करना प्रतिबंधित है।

चार अन्य हुए नामजद
निखिल को चार अन्य सहयोगियों- दिल्ली के नफीस रजा और जाहिद और मुंबई के ओमप्रकाश चौहान और नोएडा के आदर्श के साथ नामजद किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि खुफिया सूचना पर काम करने वाली एजेंसी को संबंधित साक्ष्य जुटाने के फील्ड वर्क के आधार पर आरोपियों तक पहुंचने के लिए लगभग तीन महीने तक कड़ी मेहनत करनी पड़ी।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of