Mon. Nov 19th, 2018

पीड़ितो से ही ५० रुपयां वसूली कर राहत वितरण

विराटनगर, ५ भाद्र । अगर आप बाढ़ पीड़ित हैं और राहत के हकदार भी हैं । लेकिन आप के पास ५० रुपये नहीं है तो आप को राहत में वितरित सामाग्री नहीं मिल सकेगा । ऐसी ही घटना देखने को मिली है, विराटनगर में ।
विराटनगर महानगरपालिका–४ पुल्चोक में बाढ़ पीडित के लिए प्रति परिवार ३० केजी चावल वितरण हो रहा था । पीड़ितों की लम्बी लाइन लगी हुई थी । उसी लाइन में थे– ३५ वर्षीय सन्तोष उराव और ४० वर्षीय घनश्याम मलाह । जब वे लोग राहत में वितरित चावल लेने के लिए वितरक तक पहुँचे तो उन लोगों को चावल नहीं मिला । कारण था– उन लोगों के पास ५० रुपये नहीं था ।
हां, राहत वितरण के क्रम में बाढ़ पीडितों से ही ५० रुपयां वसूल कर राहत वितरण हो रहा है । राहत पाने से वञ्चित सन्तोष उराव कहते हैं– ‘हम लोगों के पास जो भी था, सब बाढ़ ने ले गया, अब तो एक रुपयां भी नहीं है, कहां से ल्याए ५० रुपयां ?’ तब भी ३० केजी चावल, उनके परिवार के लिए महत्वपूर्ण बन था । इसीलिए उन्होंने दूसरों से कर्जा लेकर राहत के चावल लेना पड़ा ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of