Tue. Dec 11th, 2018

पोलिएस्टर आधारित लेबल का उपयोग से नेपाल सरकार को राजस्व की रक्षा होगी : महावीर प्रसाद टोरडी

श्री महावीर प्रसाद टोरडी,

काठमाण्डु: विश्व स्तर पर पेयजल,शराब, और तम्बाकू के उत्पादन और ब्रिकी पर उत्पाद शुल्क पर विश्व राजस्व का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत रहता है। सरकारी सुरक्षा मुहरी के साथ उपलब्ध उत्पादों के मूल उत्पादको और गैर लेबलिंग के कारण नेपाल सरकार को शराब और तम्बाकू उत्पादों पर उत्पादित उत्पाद शुलक के लिए कर राजस्व बढाने के लिए चुनौतियों का सामना करना पड रहा है। नेपाल में वर्तमान में पेपर लेबल्स पुराने-पुराने समाधान का उपयोग किया जा रहा है। जो आसानी से नकली करने के लिए एक स्त्रोत हो रहा है।
इण्डो-नेपाल समरसता सोशल मिशन यात्रा पर आये अन्तर्राष्ट्रीय मंच के इन्टरनेशनल संयोजक महावीर प्रसाद टोरडी काठमाण्डू स्थित पशुपतिनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद नेपाल राष्ट्र के महननीय व्यक्तियों से रू.ब.रू. व शिष्टाचार भेटवार्ता मे कहा कि नेपाल राष्ट्र में पोलीएस्टर आधारित होलोग्राम से नेपाल राष्ट्र विकास की और बढेगा। टोरडी ने नेपाल सरकार के पूर्व उपराष्ट्रपति न्यायमूर्ति परमानन्द झा, पूर्व प्रधान मंत्री माधव कुमार नेपाल, पूर्व उपप्रधानमंत्री टोप बहादुर रायमाझी, पशुपति विकास बोर्ड सचिव प्रदीप डकाल, प्रेस परिषद् के पूर्व चैयरमेन श्री बोर्णबहादुर कार्की, नेपाल सरकार के पूर्व राजदूत श्यामानन्द सुमन, विष्णुहरि नेपाल, महानिर्देशक आन्तरिक राजस्व विभाग श्री यज्ञ डुगेल, अतिरिक्त महानिर्देशक आन्तरिक राजस्व विभाग श्री बाला राम रिजाल, नेपाल सरकार के वित मंत्री श्री युवराज खतिवाड नेपाल राष्ट्र का 7वां सबसे अमीर महननीय व्यक्ति

श्री पशुपति शमशेर राणा दक्षिण एशियाई क्षैत्रीय सहयोग संगठन (सार्क यानी दक्षेस) के पूर्व महासचिव श्री अर्जून बहादुर थापा, नेपाल सरकार के पूर्व गृहमंत्री श्री देवेन्द्र कंडेल, नेपाली राष्ट्र के नेपाली बाबा तेज प्रकाश शर्मा, नेपाल सरकार के इन्वेस्टर बोर्ड के सी.ई.ओ. महाप्रसाद से शिष्टाचार में बताया, कि पोलिएस्टर आधारित लेबल का उपयोग करने पर नेपाल सरकार को अपने राजस्व की रक्षा होगी, मानव जीवन को बचाया जायेगा, आपराधिक उदययों को नकल करने के लिए आधुनिक लेबल के रूप मे जाचनें में सहयोग बढेगा। उत्पाद की वाणिज्य सुरक्षा में उन्हे अविश्वसनीय लाभ प्रदान करेगा। जो लेबल किये गये उत्पाद है। टोरडी ने बताया की नेपाल सरकार वर्तमान में शराब की बोतले और तम्बाकू उत्पादों पर पेपर आधारित टिकटों का उपयोग कर रही है। इस प्रकार के उत्पाद का उपयोग पिछले कई सालों से किया जा रहा है, और यह प्रकृति में बहुत बुनियादी है, और नकली रोकने के लिए संदिग्ध है। जिसके परिणाम स्वरूप सरकार और मानव जीवन मे राजस्व की कमी आती है। नेपाल सरकार को कनाडा, आस्ट्रेलिया, न्यूजिलेण्ड, यू.के., यू.एस.ए, सहित अनेक राष्ट्र की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के अभ्यासों से समझना महन्वपूर्ण है। जिन्होने पेपर से पाॅलिस्टर आधारित लेबलों को उनके वितिय उपकरणें यानी मुद्रा नोटस पर स्थानान्तरित कर दिया है। रू.ब.रू. कार्यक्रम मे टोरडी ने कहा कि नेपाल को पेपर लेबल्स पुराने समाधान को स्थानान्तरित करते हुये, पालिएस्टर आधारित लेबलों (होलोग्राम) का उपयोग करने एवं राष्ट्र में ईमानदारी कर्तव्य निष्ठावान पालिएस्टर आधारित होलोग्राम कम्पनीयों का स्वागत करना चाहिये। अन्तर्राष्ट्रीय समरसता मंच द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिये यह जानकारी दी गई है |

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of