Wed. Nov 21st, 2018

प्रदेशों की संख्या अदल–बदल कर भी संविधान संशोधन करने के विषय में विमर्श

काठमांडू, कार्तिक २५ ।
नेकपा माओवादी केन्द्र में प्रदेशों का संख्या अदल–बदल कर भी संविधान संशोधन करने के विषय में विमर्श शुरु हुआ है ।
सुत्रों के मुताविक केन्द्र के अध्यक्ष तथा प्रधानमन्त्री पुष्पकमल दाहाल के निवास लाजिम्पाट में आज हुइ पार्टी की हेडक्वार्टर बैठक में नेताओं ने प्रदेश में दिखे विवाद को मिलाके के लिए प्रदेश के संख्या को फेरबदल कर भी संविधान संशोधन किया जाने का धारणा आया है ।

sambidhan-baithak
केन्द्र के एक नेता ने बताया अभी कायम सात प्रदेश को कायम रखते हुए विवादित जिला को भी उसी में समाहित करने की पहले का विकल्प के उपर भी विमर्श हुआ है ।
यद्यपि वैसा नहीं हुआ तो विवादित जिला का सीमा विवाद समाधान के लिए आयोग बनाने तथा वो भी नहीं हुआ तो प्रदेश की संख्या नीचे–उपर करके भी संविधान संशोधन करने के विषय में विचार–विमर्श हुआ है ।
श्रोत ने बताया बैठक के विचार के मुताविक किसी भी विकल्प के उपर सहमति नहीं हुआ तो प्रदेश की संख्या नीचे–उपर करने को भी हमें तैयार होना चाहिये । यद्यपि इस विषय में अध्यक्ष दाहाल का कोइ ठोस धारणा नहीं आया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of