Sat. Sep 22nd, 2018

प्रदेश नम्बर २ की सुरक्षा अवस्था संवेदनशील और चुनौतीपूर्ण : गृहमंत्री थापा

हिमालिनी संवाददाता – सीपू तिवारी | जितपुर-सिमरा, वैसाख १२ –  प्रदेश नम्बर २ के प्रदेश स्तरिय सुरक्षा गोष्ठी का सिमरा में उद्घाटन करते हुए गृहमंत्री बादल ने कहा कि अन्य प्रदेश के तुलना में  प्रदेश नम्बर २ का सुरक्षा अवस्था संवेदनशील और चुनौतीपूर्ण होने के कारण गम्भिरता के रणनीति बनाकर आगे बढ़ना पड़ेगा।

गृहमंत्री ने कहा, खुल्ला सिमा के कारण अपराध, तस्करी, सामाजिक हिंसा, भष्ट्राचार जैसे समस्या  प्रदेश नम्बर २ मा ज्यादा होता है, इसी कारण  सुरक्षा गोष्ठी का शुरुआत इसी प्रदेश से किया गया है।  इस गोष्ठी से जनता का सुरक्षा और जनता का सेवा को सहज बनाने में मदद करेगा। गृहमंत्री ने प्रदेश नम्बर २ में  राजनितिक स्थायित्व को सुदृढ बनाकर आगे बढ़ने के लिए जोड़ दिया।

गृहमन्त्री थापा ने  देश के समग्र सुरक्षा व्यवस्था को व्यवस्थित करने और जनता को मिलने वाले सेवा को मध्यनजर करके गृहमन्त्रालय ने ८२ बुँदा का कार्य योजना सार्वजनिक किया है।

गृहमंत्री थापा ने कहा कि अब प्रदेश नम्बर २में भूमिगत गतिविधियों को अंजाम देना मुमकिन नही है, इसलिए उन्होंने भूमिगत संगठनों से वार्ता में आने को आहवान किया।

गोष्ठी में गृहसचिव प्रेम कुमार राई , प्रदेश निमित्त प्रमुख हरी फुयाल , प्रदेश दुई आन्तरिक मामिला तथा कानुन मन्त्री ज्ञानेन्द्र कुमार यादव , नेपाली सेना के बलाधिकृत पूर्णचन्द्र थापा , नेपाल प्रहरी के महानिरिक्षक सर्वेन्द्र खनाल , सशस्त्र प्रहरी के महानिरिक्षक शैलेन्द्र खनाल तथा अन्य सुरक्षा निकाय के उच्च अधिकारी , आठ जिल्ला के प्रमुख जिल्ला अधिकारी के साथ-साथ सुरक्षा प्रमुख की उपस्थिती रही।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of