Tue. Oct 16th, 2018

प्रधानमन्त्री के खिलाफ खनाल व्दारा अविश्वास प्रस्ताव लाने का असफल प्रयास

एक ओर जहाँ पुरे देश की जनता का ध्यान आज नयाँ संविधन निर्माण की ओर लगा हुआ है वहीँ एमाले अध्यक्ष झलनाथ खनाल आज अपने ही पार्टी के संसदिय दल के वैठक मे प्रधानमन्त्री के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिये हस्ताक्षर अभियान चलाने का असफल प्रयास मे लगे हुये थे। एमाले अध्यक्ष झलनाथ खनाल ने शनिवार आज सुवह हुई संसदीय दल की वैठक मे खाली कागज पर हस्ताक्षर करने को सभी सभासद् को निर्देशन दिए थे । लेकिन उनके इस अभियान का जनजाति, मधेसी और मुस्लिम सभासदों ने जमकर विरोध किया तथा उन्हे इस गन्दी राजनिति से अलग रहकर संविधान बनाने पर ध्यान केन्द्रित करने को सर्तक कराया ।
खनाल के निर्देशन बिरुद्ध पासाङ शेर्पा, किरण गुरुङ, दलबहादुर राना लगायत और भी सभासद् ने होहल्ला किया। जिसको की रवीन्द्र अधिकारी लगायत उनके ही सर्मथक खनाल पक्षीय युवा नेताओं ने भी सर्मथन किया । खनाल ने अगर संविधान नही बना तो र्वतमान सरकार को हटाने मे राष्ट्रपति को सुविधा होगी यह दलिल देकर खाली पेपर मे सही करवाने का र्पयास किया था । लेकिन विरोध और शोर सरावे के विच वैठक को स्थगित करना परा ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of