Tue. Nov 20th, 2018

बर्दिया बढा स्वच्छता की ओर

सन्दीपकुमार वैश्य:नेपाल सरकार ने सन् २०१७ तक सभी जनता की पहुँच में आधारभूत सरसफाई को पहुँचाने का सरकारी लक्ष्य रखा है। इसी क्रम में सरसफाइ के क्षेत्र में काम करनेवाली संस्थाएँ- आइडिएस, आरआरएन, आरएसएन, आदि ने सक्रिय रुप से सरसफाइ अभियान को आगे बढÞाया भी है। इसीतरह सरसफाई गुरुयोजना के मार्गदर्शन अनुरुप बर्दिया जिले का पेयजल सरसफाई तथा स्वच्छता समन्वय समिति ने इस जिले को सन् २०१५ तक खुली जगह पर शौचक्रिया को पर्ूण्ा रुप से प्रतिवन्ध लगाने की रणनीति बनाई है। स्वच्छ वातावरण में रहने का अधिकार हरेक नागरिकका है। बर्दिया जिले में जिला पेयजल तथा सरसफाई क्षेत्र में कार्यरत सरकारी और गैरसरकारी संस्थाओं ने इसी रणनीति अर्न्तर्गत सरसफाई अभियान को युद्ध स्तर पर आगे बढÞाया है।
पेयजल तथा सरसफाई सब डिभिजन कार्यालय बर्दिया के तथ्यांक के अनुसार २०६९ साल तक सरसफाई की पहुँच सिर्फ६९.२९ प्रतिशत घरों तक हीं है। जिन घरों में शौचालय नहीं है, उनके बासिन्दे खुली जगह में शौचक्रिया करते है। जिससे वातावरण की स्वच्छता बाधित होती है और अनेक प्रकार की बीमारियों का अन्देशा बढÞ जाता है। इससे पहले शौचालय निर्माण के लिए सरकारी तथा गैरसरकारी संघ-संस्थाओं ने सहायता दी थी। फिर भी कार्यक्रम पर्ूण्ा रुप से सफल नहीं हुआ। इस जिले में ३१ गाविस और १ नगरपालिका है। जिस में ६ गाविस २०६९ आषाढ महीने तक खुला शौच मुक्त क्षेत्र घोषित हो चुके हैं। उसके बाद दो गाविस ठाकुरद्वारा और न्यौलापुर को भी खुला शौचमुक्त क्षेत्र घोषित किया गया है। इसीतरह जेष्ठ ९ गते खैरीचन्दपुर गाविस को खुला शौचमुक्त क्षेत्र घोषित किया गया।
इसी तरह नगरपालिका में १४ वार्ड हैं, मगर उस में अभीतक वार्ड नं. ८ ही खुला शौचक्रिया मुक्त क्षेत्र है। गुलरिया नगरपालिका के अधिकृत विष्णुप्रसाद गुरुङ ने कहा- ‘और वार्ड भी मुक्त क्षेत्र घोषित होने के क्रम में हैं।’ ‘इस अभियान का लक्ष्य पूरा करने के लिए आर्थिक सहयोग युएन हृयाविट्याट ग्लोबल सेनिटेसन फण्ड कर रहा है’, ऐसा उस के जिला संयोजक विपिन पौडेल ने बताया।
बाघ की हड्डी के तस्कर धरे गए
बर्दिया। एक किलो दो सौ चालिस ग्राम बाघ की हड्डीयों के साथ दो लोगों को बर्दिया राष्ट्रिय निकुञ्ज शासन ने पकडÞा है। नेपाल में दर्ुलभ वन्यजन्तु बाघ की हड्डयिों की तस्करी में सम्लग्न रहे पुन्मा गाविस ७ जाजरकोट रहनेवाले गोविन्द चन्द और मगी गाविस १ हुम्ला में रहनेवाले रंगमल रोकाय पकडे गए है, ऐसा निकुञ्ज के सहायक संरक्षक अधिकृत अशोक भण्डारी ने बताया।
नेपाली सेना और निकुञ्ज के  कर्मचारियो की  संयुक्त टोली नेे तस्करों को बर्दिया निकुञ्ज के मध्यवर्ती क्षेत्र में रहे कर्तनिया मध्यवर्ती सामुदायिक वन के पास से पकडÞा था। यह काम विशेष सुराकी के आधार पर हुआ है। तस्करी में  संलग्न रहे दोनों को निकुञ्ज ने मुख्यालय ठाकुरद्वारा में रख कर अनुसन्धान की प्रक्रिया को आगे बढÞाया है। तस्करों को  शनिवार ही पकडÞ लिया गया था। मगर अनुसन्धान की प्रक्रिया में निकुञ्ज ने रवीबार को सूचित और र्सार्वजनिक किया था।
हत्याकाण्ड के आरोपी जेल चलान
बर्दिया। बर्दिया गुलरिया की शिवा हाशमी की हत्या के अभियोग में पकडÞे गए भारतीय नागरिक २२ बषर्ीय बाबु खान को आगे की कारवाही के लिए बर्दिया जिला अदालत ने करागार चलान किया है। हाशमी के परिवार जनोंने खान के विरुद्ध पुनरावेदन अदालत नेपालगंज में रीट दायर करने पर पुनरावेदन अदालत की संयुक्त इजलास ने अभियुक्त को कसूरवार दिखाएते हुए आगे की कारवाही के लिए कारागार चलान का आदेश बर्दिया जिला अदालत ने दिया है।
स्रेस्तेदार दिलप्रसाद सापकोटा के अनुसार पुनरावेदन अदालत आदेश पर खान को कारागार चलान किया गया है। पाँच महीने पहले हत्या के अभियोग में बर्दिया जिला अदालत ने हाशमी की ४५ वषर्ीया माँ हसीना हाशमी और ३० वषर्ीय भाई सिद्धू हाशमी को जाँच पडÞताल के लिए कारागार चलान किया था।
अदालत ने हत्या के अभियोगी बाबु खान को ५० हजार की धरौटी पर तारीख में छोडÞा था। २०६९ साल मार्ग २२ गते पेट्रोल की आग से बुरी तरह जली हर्ुइ गुलरिया-८, की शिवा हाशमी की मौत मार्ग २७ गते  उपचार के क्रम में काठमांडू में हर्ुइ थी।
जेल में कैदियों की दुरावस्था
बर्दिया। बदिर्या के गुलरिया स्थित जिला कारगार भवन जर्ीण्ा होता जा रहा है। जिसके चलते वहाँ रहनेवाले कैदियों की समस्या दिन प्रतिदिन गम्भीर हो रही है। ०३४ साल में निर्मित उक्त कारागार मर्मत कें अभाव में समस्यामूलक बन गया है। इसी तरह भवन की क्षमता से ज्यादा कैदियों को रखने से समस्या बढÞी है, ऐसा एक कारागार अधिकारीने बताया।
१ सय ३५ कैदियों को रखने की क्षमता इस कारागार की है, जिस में अभी दो सौ से ज्यादा कैदी रहते आ रहे है। गर्मी के मौसम में एक ही कमरे में ज्यादा लोगों को सोना पडÞता है और इसके चलते भी कैदियों के स्वास्थ में अनेक समस्याएं दिखाइ दे रही हैं।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of