Thu. Oct 18th, 2018

भारतीय प्रधानमंत्री माेदी अाज पटना में, देंगे कराेडाें का उपहार

 

पटना १४ अक्टुवर

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोकामा में जब मगही में लोगों से पूछा कि कइसन हो मोकामा के लोग, तोहरा परनाम। हम धन्य हो गेलियो। मगही में उनका यह भाषण सुनकर तालियों की गड़गड़हाट से सभा स्थल गूंज उठा। उन्होंने कहा कि पूरा देश दिवाली की तैयारी कर रहा है और यहां छठ की तैयारी हो रही है। करीब-करीब चार हजार करोड़ की सौगात बिहार की धरती को देने आया हूं।

पीएम मोदी ने मंच से सभा को संबोधित करने के लिए जैसे ही कहा भारत माता की जय, सभा स्थल तालियों से गूंज उठा। पीएम ने कहा कि बिहार का भाग्य बदलने के लिए हम काम कर रहे हैं।मैं  सीएम नीतीश का अाभारी हैं। केंद्र और राज्य सरकार आपकी तपस्या को बेकार नहीं जाने देगी।

पीएम ने कहा कि गंगा स्वच्छ होगी पवित्र होगी तो छठ का आनंद भी अलग होगा। गंगा हमारे जीवन से जुड़ी है, गंगा को बचाने के लिए हम सबको आगे आना होगा। गंगा को बचाना भावी पीढ़ी  की जिम्मेदारी है। गंगा को बचाने से जल की समस्या खत्म हो जाएगी।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी दिवस समारोह में भाग लेने के बाद पटना म्यूजियम पहुंचे, जहां सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें म्यूजियम को बिहार की विरासत से परिचय कराया। नीतीश कुमार ने पीएम मोदी से म्यूजियम देखने का आग्रह किया था जिसके बाद पीएम म्यूजियम पहुंचे। पीएम मोदी ने म्यूजियम में रखी एक-एक चीजों की जानकारी ली।

इसके बाद पीएम मोदी पटना एयरपोर्ट पहुंचे जहां से वे हेलीकॉप्टर से मोकामा पहुंचे। मंच पर मौजूद नेताओं ने उनका स्वागत किया। पीएम मोदी ने मंच से सभा को संबोधित करने के लिए जैसे ही कहा भारत माता की जय, सभा स्थल तालियों से गूंज उठा। पीएम ने क्षेत्रीय भाषा में अपना संबोधन करते हुए कि मोकामा वासी के परनाम, हम धन्य हो गेलियो। तालियों की गड़गड़ाहट तेज हो गई।

पूरा देश दिवाली की तैयारी कर रहा है और यहां छठ की तैयारी हो रही है। करीब-करीब चार हजार करोड़ की सौगात बिहार की धरती को देने आया हूं।

उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने पीएम मोदी का स्वागत किया और कहा कि पीएम मोदी आज बिहार को कई उपहार दे रहे हैं, जिससे बिहार के लोगों को काफी फायदा होगा।

सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बिहार में एनएच का काम तेजी से हो रहा है।गंगा पर गांधी सेतु पुल का निर्माण जल्द शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीएम ने जो वादा किया था वो पूरा होगा। बिहार के विकास के लिए केंद्र सरकार प्रतिबद्ध।

सभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि पीएम मोदी पटना यूनिवर्सिटी के शताब्दी दिवस समारोह में आए फिर उन्होंने म्यूजियम को देखा। यह हमारे लिए गर्व की बात है। नीतीश ने मोकामा वासियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि इस क्षेत्र के लोगों की ही वजह से नीतीश कुमार की पहचान है। यहां के लोगों ने ही मुझे पांच बार सांसद बनाया।

उन्होंने कहा कि मोकामा बहुत बड़ा टाल क्षेत्र है और टालक्षेत्र की समस्याएं गंभीर हैं। नीतीश कुमार ने पीएम मोदी से आग्रह करते हुए कहा कि विक्रम शिला पर समानांतर चार लेन पुल की बहुत जरूरत है और इसके लिए काम किया जाना चाहिए। जमीन अधिग्रहण के लिए सरकार पूरी मदद करने के लिए तैयार है।

सीएम ने कहा कि बक्सर एक एतिहासिक स्थल है। बक्सर से बनारस के लिए एनएच बनाने की जरूरत है।उन्होंने नितिन गडकरी बिहार में शुरू करने वाले प्रोजेक्ट्स के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि गंगा तट पर आर्गेनिक फार्मिंग शुरु करना जरूरी है। हम गंगा की अविरलता को निर्मलता से जोड़कर देखते हैं। गंगा को सिल्ट की समस्या से छुटकारा दिलाने की जरूरत है।

सीएम ने कहा कि बिहार में अब नए गठबंधन की सरकार है, हम उम्मीद करते हैं कि अब बिहार में विकास की गाड़ी तेजी से दौड़ेगी। उन्होंने नितिन गडकरी का जमकर तारीफ की।

कुछ देर में पीएम मोदी विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। मोकामा में पीएम का लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, मंच पर नेतागण पहुंच गए हैं। सभा स्थल से मोदी-मोदी के नारे लगाए जा रहे हैं, लोगों में काफी उत्साह देखा जा रहा है। इससे पहले पीएम ने पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह को संबोधित किया था।

आज सुबह दस बजकर चालीस मिनट पर पीएम मोदी दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पहुंचे, जहां  सीएम नीतीश ने उन्हें लाल गुलाब का फूल देकर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। पीएम ने भी लाल गुलाब लेकर अपनी खुशी जाहिर की और हाथ में लाल गुलाब थामे ही अन्य लोगों से भी बारी-बारी से मिले।

पीएम की अगुवाई के लिए बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, सीएम नीतीश कुमार के साथ ही केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन भी पीएम के स्वागत के लिए पटना एयरपोर्ट पहुंचे थे।

उनके साथ ही कई गणमान्य लोग भी पीएम के स्वागत के लिए पटना एयरपोर्ट पहुंचे। पीएम ने सबसे मुलाकात की और अब वे पटना एयरपोर्ट से सीधे पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में भाग लेने के लिए पटना साइंस कॉलेज में आयोजित सभा स्थल पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया। पीएम मोदी के पहुंचने के साथ ही सभा स्थल पर मोदी-मोदी के नारे गूंजते रहे।

मंच पर पहुंचने के बाद पीएम मोदी ने हाथ हिलाकर सबका अभिवादन किया, मंच पर मौजूद सभी लोगों से पीएम मोदी ने हाथ मिलाया। मंच पर पीएम मोदी ने बीच में स्थान ग्रहण किया। उनकी एक ओर सीएम तो दूसरी ओर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने स्थान ग्रहण किया। उसके बाद पीयू का गान प्रस्तुत किया गया।

पटना यूनिवर्सिटी के समारोह स्थल के मंच को विशेष रूप से सजाया गया है। पीएम को स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया और पीयू के वीसी रासबिहारी सिंह ने पीएम सहित गणमान्य लोगों का समारोह में स्वागत किया और शॉल देकर सम्मानित किया। उसके बाद वीसी ने स्वागत भाषण में पीयू का इतिहास बताया और उसके साथ ही शताब्दी वर्ष पर 12 नये विभाग भी खोले जाने का एलान किया।

 

उनके बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपने भाषण में कहा कि इस विश्वविद्यालय ने कई दिग्गजों को शिक्षा प्रदान की जिन्होंने देश और दुनिया में नाम कमाया। लोक नायक जयप्रकाश नारायण से लेकर कई नेता और प्रतिष्ठित लोगों को इस यूनिवर्सिटी की मिट्टी ने गढ़ा है।

उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के बाद मुख्यमंत्री नीतीश ने अपनी यादें ताजा करते हुए कहा कि इस विश्वविद्यालय में एडमिशन होना उस वक्त के लिए गर्व की बात थी, इससे मेरी गहरी यादें जुड़ी हैं। इसी यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग कॉलेज में मुझे पढ़ने के लिए मेरे पिताजी ने मेरा एडमिशन कराया और मैं भी इसका छात्र बना। मेरे पिताजी की दिली ख्वाहिश थी कि मैं इंजीनियर बनूं।

उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद देेते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी जी पहले प्रधानमंत्री हैं जो विश्वविद्यालय के समारोह में आये हैं। नीतीश ने कहा कि मैं हाथ जोड़कर पीएम मोदी जी से आग्रह करता हूं कि इस विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा प्रदान करें जिससे कि यहां के छात्र कहीं बाहर जाने के लिए ना सोचें।

 

प्रधानमंत्री के आगमन से पहले समारोह में शिरकत करने कई मंत्री और सांसद विधायक पहुंचे, जिसमें केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, रविशंकर प्रसाद, उपेंद्र कुशवाहा, अश्विनी चौबे, मंत्री विनोद नारायण झा, मंत्री मंजू वर्मा, पूर्व शिक्षामंत्री अशोक चौधरी  सहित कई गणमान्य लोग शामिल हैं।

 

पटना विश्वविद्यालय के छात्र पीएम के आगमन को लेकर काफी खुश हैं, उनका उत्साह चरम पर है। छात्राओं ने बताया कि आज हम उस एतिहासिक पल के गवाह बनेंगे क्योंकि आज पटना का शताब्दी दिवस समारोह है और पीएम इसमें शिरकत करने आ रहे हैं। इस समारोह में शिरकत करने यूनिवर्सिटी के पूर्ववर्ती छात्र भी पहुंचे।

 

म्यूजियम देखने के बाद प्रधानमंत्री मोकामा जाएंगे और वहां केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 के औंटा-सिमरिया पथ को चार लेन किए जाने, छह लेन वाले गंगा सेतु के निर्माण और बख्तियारपुर-मोकामा पथ को चौड़ा कर चार लेन बनाने सहित चार राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे।

 

इस मौके पर केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी भी उपस्थित रहेंगे। इन कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद प्रधानमंत्री अपराह्न 3:15 बजे पटना हवाईअड्डे पहुंचेंगे और फिर दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।प्रधानमंत्री के बिहार दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर पुलिस महानिदेशक पीके ठाकुर ने पुलिस मुख्यालय में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की।

साभार दैनिक जागरण

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of