Tue. Nov 20th, 2018

मधेशियों की मांगोंको विदेश की मांग कहना जायज नहीं : गृहमंत्री निधि

आर एन यादव ,काठमान्डू ,माघ ७
उपप्रधान तथा गृहमंत्री विमलेन्द्र निधि ने संविधान संशोधन की मांग को  विदेश की मांग कहना जायज नहीं  हैं | प्रतिपक्षी को खण्डन कराते उन्होंने कहा कि यह मांग विदेशी की न होकर सम्पूर्ण नेपाली की हैं | संशोधन होने से सम्पूर्ण नेपाली के लिए हितकर होगा |
Bimalendra-Nidhi-1
सप्तरी के नर्घो गाविस में माघ ६ गते आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि संविधान संशोधन की मांग सिर्फ मधेशियों की है ,यह कहना प्रतिपक्षी की भूल है | उन्हें समझाना चाहिए कि यह मांग मधेशियों की ही नहीं सम्पूर्ण हिमाल ,पहाड़ और तराई की जनता के साथ् – साथ् आदिवासी जनजाति ,पिछडावर्ग,दलित ,अल्पसंख्यक ,मुस्लिम आदि समुदायों की मांगे रही हैं |
बताया कि सीमांकन ,नागरिकता की प्राप्ति ,भाषा एवं राष्ट्रीय सभा में प्रतिनिधित्व हेतु पंजीकृत किया गया संशोधन विधेयक अवश्य पारित होगा | कांग्रेस इन मांगों से सहमत है और पारित भी करेगी |

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

1
Leave a Reply

avatar
1 Comment threads
0 Thread replies
0 Followers
 
Most reacted comment
Hottest comment thread
1 Comment authors
Surya Recent comment authors
  Subscribe  
newest oldest most voted
Notify of
Surya
Guest
Surya

डुब मरो 70 साल बाद भी तुम विदेशी हो, इस से अच्छा तो सी के राउत है।
जय मधेश ।