Fri. Nov 16th, 2018

मधेशी मोर्चा ने किया संसद वहिष्कार

df]rf{åf/f ;bg alxisf/ ;+o'Qm nf]stflGqs dw];L df]rf{df cfa4 bnx?n] Joj:yflksf–;+;bsf] z'qmaf/sf] a}7s alxisf/ ub}{ . tl:a/ M /f]zg ;fksf]6f, /f;;
काठमांडू, कार्तिक २६ ।
मधेशी मोर्चा में आवद्ध दलों ने आज की संसद बैठक में विरोध जताते हुए संसद वहिष्कार किया है ।
सभामुख ओनसरी धर्तिमगर द्वारा संसद की बैठक शुरु करते ही मधेशी मोर्चा लगायत के असंतुष्ट दल के सदस्यों ने उठकर विरोध प्रदर्शन किया है । उस के बाद सभामुख ने संघीय समाजवादी फोरम नेपाल के नेता अशोक राइ को बोलने के लिए समय प्रदान कीं ।
संसद में बोलते हुए नईं सरकार बन्ने से पहले हुई तीन बुँदे सहमति के अनुरुप मधेश आदीवासी लगायत के आन्दोलनरत पक्ष की माग सम्बोधन करने के लिए सरकार गम्भिरता के साथ कोइ काम नहीं कर रही है, आरोप लगाया ।
राई ने आन्दोलन के क्रम में हुए दमन व ज्यादती की छानविन करने को गठित आयोग ने कोइ कार्य नहीं किया है आरोप लगाते हुए कई दल के नेताओं जो आन्दोलन के लिए जनता को निदेशन दिया था आज वहीं सरकार के मन्त्री बन्ने के कारण आन्दोलन में सहभागी कार्यकर्ता को बन्दी बनाना अनावश्यक होने का दावा भी किया ।
सहमति अनुरुप सरकार ने कोइ भी कार्य नहीं किया है कहते हुए मधेशी मोर्चा लगायत आन्दोलनरत तमलोपा, फोरम नेपाल, सदभावना, संघीय सदभावना पार्टी, थरुहट तराइ राष्ट्रीय पार्टीलगायत के दलों ने सदन की कारवाही में सहभागी नहीं हो सकते बताते हुए वहिष्कार किया ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of