Fri. Sep 21st, 2018

मापदण्ड विपरित व्यावसाय करनेवालों के ऊपर मन्त्री पण्डित अक्रामक

काठमांडू, २५ फरवरी । जनसंख्या तथा वातावरण मन्त्री लालबाबु पण्डित मापदण्ड विपरित व्यावसाय करनेवालों के ऊपर आक्रमक रुप में प्रस्तुत हुए हैं । वातावरणीय प्रभाव मूल्यांकन (ईआईए) किए बिना संरचना निर्माण करनेवाले लगभग एक दर्जन होटल तथा अस्पताल को उन्हों ने कारवाही किया है । स्मरणीय है, लालबाबु पण्डित वही मन्त्री है, जिन्होंने इससे पहले सामान्य प्रशासन मन्त्री रहते वक्त भी जनता के पक्ष में काम किया था ।
आइतबार मन्त्रालय में सम्पन्न बैठक ने ईआईए बिना ही सेवा बिस्तार करनेवाले सोल्टी होटल, सिटी अपार्टमेन्ट, द्वारिका होटल, सिद्धि होटल, काठमांडू, गेष्ठ हाउस को १–१ लाख जुरमाना लेने का निर्णय लिया है । इसीतरह काठमांडू मोडल अस्पताल, काठमांडू अस्पताल, नेशनल अस्पताल और अन्तर्राष्ट्रीय बाल अस्पताल, अरनिको सिमेन्ट, काठमांडू दुग्ध विकास आयोजना को भी कारवाही किया गया है ।
मन्त्री पण्डित का कहना है कि कानुनी मापदण्ड विपरित काम करनेवालों को नहीं छोड़ेगे । उनको मानना है कि कानुन उल्लंघन करनेवाले हर कोई को सजाय भुंगतना ही होगा । उन्होंने यह भी कहा है कि यह तो सिर्फ शुरुआत है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of