Fri. Oct 19th, 2018

राजपा के केन्द्रिय पदाधिकारी बैठक में ‘राजधानी’ परिवर्तन के प्रस्ताव (प्रस्ताव सहित)


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, ३ अगस्त ।

राष्ट्रिय जनता पार्टी नेपाल की केन्द्रिय पदाधिकारी बैठक आज से काठमांडू में सुरु हुई हैं । बैठक के पहले दिन ही संघीय केन्द्रिय राजधानी परिवर्तन के प्रस्ताव पेश किया हैं ।

राजपा नेपाल के सह–महासचिव पाण्डेय नें वो प्रस्ताव राजपा के अध्यक्षमण्डल के संयोजक महन्थ ठाकुर को सौंपा हैं । उन्होने सद्भावना परिषद के गठन से ही राजनीति जीवन सुरु किया हैं । नेता पाण्डेय नेपाली भाषा नबोल्ने की कसम खायी हैं ।

नेता पाण्डेय द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव में कहा हैं कि राजपा नेपाल हर प्रकार के शोषण, उत्पीडन, भेदभाव के खिलाप संघर्ष करनें बाली पार्टी हैं । विभेद के विरुद्ध संघर्ष और समानता के लक्ष्य के साथ राजपा जनस्तर पर काम करतें हैं ।

उन्होने प्रस्ताव में उल्लेख किया हैं कि नेपाल में बोली जानें बाली सभी भाषाओ के राष्ट्रिय भाषा के दर्जा, देश के ८४ फीसदी के लिए सहज भाषा हिन्दी मधेश एवम पहाड को जोडने बाली भाषा हैं ।

उन्होने प्रस्ताव में जिकिर किया हैं कि नेपाली समकक्ष भाषा के सरह राष्ट्र के दृतिय भाषा के रुप में अर्थात सरकारी काम–काज के लिए मान्याता देने की माग की हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of