Thu. Jan 17th, 2019

राष्ट्र से बढ़ कर कोई भी वाद और विचार नहीं हो सकताः शाह

काठमांडू, ११ जनवरी । पूर्व राजा ज्ञानेन्द्र शाह को मानना है कि स्वतन्त्र देश में रहनेवाले आम नागरिकों के लिए राष्ट्र से बढ़ कोई भी वाद और विचार ऊपर नहीं हो सकता । पृथ्वी जयन्ती के अवसर पर शुभकामना मन्तव्य व्यक्त करते हुए उन्होंने ऐसा कहा है । उन्होंने कहा है– ‘नगरिकों के लिए अपने देश से बढ़ कर बड़ा कोई भी वाद, विचार नहीं हो सकता । नेपाली–नेपाली बीच आपस में दुश्मनी पैदा करना, सर्वभौमिक सर्वोच्चता, राष्ट्रीय एकता और सामाजिक सद्भाव में पहुँचाने का काम किसी भी वाद और विचार के नाम में नहीं होना चाहिए ।’
पूर्व राजा शाह ने यह भी कहा है कि पृथ्वी नारायण शाह की दिव्य उपदेश की मर्म अनुसार व्यवहार न होने के कारण ही आज देश संकट में पड़ रहा है, देश में घात–प्रतिघात की बादल उमड़ रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of