Tue. Nov 20th, 2018

रेशमलाल चौधरी को लक्षित करके ही नयां नियमावली परित हुआ हैः कर्ण

‘प्रत्यक्ष निर्वाचित कार्यकारी तानाशाही होते हैं, हमें स्वीकार्य नहीं है’

काठमांडू, १० जून । राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) नेपाल के नेता तथा सांसद लक्ष्मणलाल कर्ण ने कहा है कि कैलाली–१ से निर्वाचित रेशमलाल चौधरी को लक्षित करके ही संसद्संचालन संबंधी नयां नियमावली को पारित किया है । उनका मानना है कि कमन ल की सिस्टम में अगर किसी को गिरफ्तार करते हैं तो वह अपराधी नहीं भी हो सकते है, सिर्फ अभियुक्त होते हैं । सांसद् कर्ण ने कहा– ‘इसीलिए जब तक अदालत से दोषी प्रमाणित नहीं किया जाता, सांसद् को अपराधी की तरह निलम्बन करने की जरुरत नहीं है, राजपा इसी प्रावधान के पक्ष में है ।’
नेता कर्ण ने कहा कि प्रतिनिधिसभा संचालन नियमावली सभी राजनीतिक दलों की सहमति में ही पारित की गई है । उन्होंने कहा– ‘नेपाल में नेता लोग कुछ देर के लिए झगडा करते हैं, अन्तम में सभी मिलते भी हैं, यही हमारी विशेषता है ।’ शनिबार काठमांडू में आयोजित एक साक्षात्कार कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कहा ।
इसीतरह कर्ण ने कहा है कि प्रत्यक्ष निर्वाचित कार्यकार्य प्रणाली राजपा को स्वीकार्य नहीं है । उनका मानना है कि प्रत्यक्ष निर्वाचित कार्यकारी तानाशाही होते हैं । कार्यक्रम को सम्बोधन करते हुए उन्होंने आगे कहा– ‘हम लोग संसदीय व्यवस्था में विश्वास करते हैं, यही लोकतन्त्र का सुन्दर पक्ष भी है, हम लोग इजरायल की तरह प्रत्यक्ष निर्वाचित तानाशाही के पक्ष में नहीं हैं ।’

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of