Mon. Dec 10th, 2018

विकास और समृद्धि के लिए स्थानीय तह और प्रदेश के बीच समन्वय आवश्यकः मुख्यमन्त्री राउत

जनकपुरधाम, ८ दिसम्बर । प्रदेश नं. २ के मुख्यमन्त्री लालबाबु राउत ने कहा है कि विकास और समृद्धि के लिए स्थानीय तह और प्रदेश के बीच समन्वय होना आवश्यक है । प्रदेश नं. २ स्तरीय गांवपालिका राष्ट्रीय महासंघ की प्रथम प्रदेश अधिवेशन को शुक्रबार लालगढ में उद्घाटन करते हुए मुख्यमन्त्री राउत ने कहा– ‘विकास निर्माण के लिए मुख्य केन्द्रविन्दु स्थानीय तह है, इसीलिए स्थानीय तह और प्रदेश के बीच समन्वय कर आगे बढ़ने की विकल्प नहीं है ।’
मुख्यमन्त्री राउत को यह भी मानना है कि स्थानीय तहों में जो जनप्रतिनिधि हैं, उन लोगों को दलगत मानसिकता और प्रवृत्ति से ऊपर आना भी जरुरी है । उनका कहना है कि भ्रष्टाचार के लिए प्रदेश नं. २ बदनाम होते जा रह है, इसीलिए जनप्रतिनिधियों को सजग रहना आवश्यक है । गांवपालिका राष्ट्रीय महासंघ के प्रदेश संयोजक विजय चौरसिया के अध्यक्षता में उद्घाटित कार्यक्रम में वन, उद्योग तथा पर्यटन राज्यमन्त्री सुरेश मण्डल, नेपाली कांग्रेस संसदीय दल के नेता राम सरोज यादव, नेकपा नेता तथा प्रदेशसभा सदस्य शत्रुधन महतो आदि वक्ताओं ने कार्यक्रम को संबोधन किए थे । प्रदेश नंं २ अन्तर्गत ५९ गांवपालिका के प्रतिनिधि कार्यक्रम में उपस्थित हैं ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of