Sun. Sep 23rd, 2018

शक्ति पृथकीकरण के मूलभूत सिंद्धांत पर आघात हुवा हैंः नेपाली काँग्रेस


हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, ५ अगस्त ।
नेपाली कांग्रेस ने कहा है- “प्रधानन्यायाधीश पद के लिए प्रस्तावित दीपकराज जोशी को अस्वीकार किए जाने को कांग्रेस ने शक्ति पृथकीकरण के मूलभूत सिंद्धांत पर आघात के रूप में लिया है ।”
कांग्रेस ने एक बयान के जरिए ये बात कही है । बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की अध्यक्षता में हुई संर्वधानिक परिषद की बैठक जोशी को प्रधानन्यायाधीश के लिए सर्वसम्मति से सिफारिश करती है जबकि सुनवाई समिति से उनका नाम अस्वीकृत हो जाता है- इस घटना से प्रधानमंत्री के नैतिक उत्तरदायित्व और दोहरी भूमिका पर सवाल खड़ा होता है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of