Wed. Nov 21st, 2018

समान हैसियत में ही पार्टी एकता हो सकती है, नहीं तो एकता सम्भव नहींः प्रचण्ड

काठमांडू, २७ मार्च । माओवादी केन्द्र के अध्यक्ष पुष्पकमल दाहाल प्रचण्ड ने कहा है कि नेकपा एमाले के साथ समान हैसियत में ही पार्टी एकता हो सकती है, नहीं तो एकता सम्भव नहीं है । सोमबार काठमांडू में पार्टी की भातृ संगठन अखिल क्रान्तिकारी की कार्यकर्ता प्रशिक्षण को समापन करते हुए उन्होंने कहा कि बाहर जिस तरह ७०÷३० के भागबण्डा के आधार में पार्टी एकता होने की बात की जा रही है, उस तरह नहीं होगी, समान हैसियत में ही पार्टी एकता सम्भव है ।
अध्यक्ष प्रचण्ड ने आगे कहा– ‘बाहर चर्चा की जा रही है कि एमाले से २०० और माओवादी से ९९ पार्टी सदस्य को लेकर केन्द्रीय कमिटी बनाया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं है, समान हैसियत में ही पार्टी एकता की जाएगी ।’ प्रचण्ड ने यह बात स्वीकार किया कि भारत भ्रमण से पहले ही पार्टी एकता के लिए प्रधानमन्त्री तथा एमाले अध्यक्ष की ओर से प्रस्ताव आया है । लेकिन अध्यक्ष प्रचण्ड का मानना है कि भारत भ्रमण से पहले नहीं, वैशाख १० गते तक एकता हो सकती है ।
स्मरणीय है, इधर नेकपा एमाले के नेता कह रहे हैं कि चुनावी परिणाम अनुसार ही ७०÷३० की मोडल अनुसार ही पार्टी एकता हो सकती है । लेकिन प्रचण्ड का कहना है कि विगत में भीसमान हैसियत में पार्टी एकता होने की नजीर है, इसलिए अब भी ५०÷५० प्रतिशत के हैसियत में ही एकता हो सकती है । उन्होंने यह भी कहा कि एकता के बाद और पार्टी महाधिवेशन से पहले दोनों पार्टी के शीर्ष नेताओं की हैसियत भी समान रहेगी, और बारीबारी अध्यक्षता की जाएगी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of