Sat. Feb 16th, 2019

सीके राउत और विप्लव को वार्ता में आने के लिए आग्रह

radheshyam-money-transfer

काठमांडू, १० सितम्बर । सरकार ने विभिन्न २३ विद्रोही समूह को वार्ता में आने के लिए आग्रह किया है, उस में स्वतन्त्र मधेश अभियान के संयोजक सीके राउत समूह और नेपाल कम्युनिष्ट पार्टी (विप्लव) समूह भी है । प्रतिनिधिसभा के सांसद् तथा नेपाल कम्युनिष्ट पार्टी के नेता सोमप्रसाद पाण्डेय की संयोजकत्व में गठित सरकारी वार्ता टोली ने सभी विद्रोही समूह को वार्ता के लिए सोमबार औपचारिक आग्रह किया है ।
गत भाद्र १४ गते सिंहदरबार में कार्यालय स्थापना कर वार्ता टोली ने काम शुरु किया था । टोली ने २३ समूह को विद्रोही समूह के रुप में पहचान किया है । उसमें से अधिकांश विद्रोही समूह मधेश केन्द्रीत हैं । सोमबार सिंहदरबार में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में वार्ता टोली के सदस्य पाण्डेय ने कहा कि कल मंगलबार से ही विद्रोही समूह से सम्पर्क किया जाएगा और प्रथम चरण में ४ समूह से वार्ता होने जा रही है । वार्ता टोली में सुरेश आले मगर, ताराकान्त चौधरी, लीला भण्डारी और गृह मन्त्रालय के सह–सचिव कुमार खड्का सदस्य हैं । टोली को ३ महीना का समय दिया गया है ।
वार्ता टोली ने पहचान में आए २३ जानकारी नहीं दिया है । औपचारिक रुप में सिर्फ विप्लव समूह का नाम लिया गया है । वार्ता टोली ने दावा किया है कि थप कुछ समूह ने सरकारी टोली समक्ष वार्ता के लिए निवेदन पेश किया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of