Wed. Nov 21st, 2018

सीके राउत समर्थक और पुलिस के बिच झडप, एक बृद्ध महिला और लडकी घायल

 marchbar-rupandehi

रोशन झा , रूपन्देही, १९ फरवरी २०१७, मर्चवार (मजगावाँ) | स्वतन्त्र मधेश गठबंधन के केन्द्रिय संयोजक डा. सीके राउत और उनके कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध तथा रिहाई के लिए कल्ह सुबह से ही पूरा  मर्चवार (मजगावाँ) क्षेत्र तनावग्रस्त रहा |  झण्डा, बैनर और प्लेकार्ड लेकर रूपन्देही जिले के कई स्थानों से निकले रैलियों में सामिल रहे सर्वसधारण मधेशियों से अनेक  सवाल करते हुए पुलिस कर्मियों नें लोगों को डर, त्रास और धम्की देते हुए रास्ते में ही रोक दिया | रैली का कार्यक्रम देखने गई करीव ६०/६५ बर्षिय एक बृद्ध महिला सरस्वती देवी मल्लाह के उपर पुलिस द्वारा लाठी बर्साया गया |

स्वतन्त्र मधेस गठबन्धनके संयोजक डा. सीके राउतकी गियफ्तारीके बिरुद्ध मझगाँवामें आयोजीत बिरोधसभाको पुलीस नें रोक दिया । सडकों पर आवत-जावत कर रहे लोगोंको मझगाँवा में रुकने पर पाबन्दि लगाया गया था । वहाँ पर रुकनेवालों को अभद्र व्यवहार करके पुलिस सुबह से ही खदेड रही थी । शान्तिपूर्ण रैली लेकर सभा स्थल पहुँच रहे गठबन्धन समर्थक मधेसी जनता के रैली में अन्धा-धुन्द टियर ग्यास प्रहार किया गया और लोगों पे अन्गिनत लाठीयां बर्साई गई । उसी क्रम में अठारह वर्ष की एक छात्रा संगिता केवट और सतर वर्ष की एक बृद्ध सरस्वती मलाह गम्भिर घायल हुई साथही ७० से अधिक लोग चोटिल हुए । कितने लोग गिरफ्तार हुए ईसका कोई आँकडा नही है लेकिन दो-दर्जन से ज्यादा गिरफ्तार होने की खबर है |

करीव ५ हजार की संख्या में भुजहिया गाँव से आए रैली के उपर दर्जनों सेल अांशु गैस और अन्धाधून्द लाठी चार्ज किया गया | रैलियों का नेतृत्व कर रहे गठबंधन के कुछ नेता कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया गया है जिनमें विकास प्रसाद लोध, जितेन्द्र यादव, राजेश बड़ई का नाम सार्वजनिक हुआ है | कई नेता, कार्यकर्ता एवं सर्व-सधारण पुलिस के लाठी और आंशु गैस एवं गोली फायर से गम्भीर घायल हुए हैं | बताया गया है चोट से कई लोगों का सर और पैर में गम्भीर घाव लगी है | रैली मे हुए दमन के बिरुद्ध जब लोग नारा लगाते हुए सडक के किनार बैठ गऐ तभी पुलीस ने क्रुरता पुर्वक उस भीड में आँसुग्यास छोडा और लाठी से मारमार कर खदेडने लगा । रैली में सहभागी हुई उच्च शिक्षा अध्ययनरत संगिता केवट गम्भीर चोट के कारण ईलाज के लिए भैरहवा अस्पताल पहूँचाया गया, उनकी अवस्था गम्भीर होने के कारण उन्हें काठमाँडौ रेफर किया गया है | ईससे पहले आजाद़ी के लिए काम कर रहे स्वतन्त्र मधेश गठबंधन के केन्द्रिय संयोजक डा. सीके राउत २० माघ २०७३ को गिरफ्तार किया गया था |

इस बिच गठ्बन्धन द्वारा प्रकाशित प्रेस विज्ञप्ति में पुलिस हस्तक्षेप का विरोध किया गया है | विज्ञप्ति में उल्लेख है कि नेपाल पुलिसद्वारा देखाया जा रहा ईस प्रकारका अलोकतान्त्रिक आचरणों से स्वतन्त्र पूर्वक जिने, शान्तिपूर्वक बसोवास करने, सुरक्षित आवत जावत करने एवं शान्तिपूर्ण सभा सम्मेलन मार्फत विचार अभिव्यक्ति दे पाने जैसा विश्व मान्यता अनुरूप प्राप्त अधिकार पर पूर्ण हस्तक्षेप किया गया है | अपना हक और अधिकार के लिए संगठित हो पाने एवं लोकतान्त्रिक मूल्य मान्यताओं के अनुकुल सामाजिक एवं राजनैतिक गतिविधी कर पाने सम्बन्धी अन्तराष्ट्रिय संधी सम्झौते उपर नेपाली पुलिस सिधे धावा बोल रही है | नेपाल सरकार द्वारा नियन्त्रित पुलिस की अमानवीय, अप्रजातान्त्रिक, गैर-न्यायिक, गैर-कानूनी क्रियाकलाप पर हमारी गम्भिर आपत्ति है ।

march-5

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of