Tue. Nov 13th, 2018

सी.डी.ओ. को नेता नही, कर्मचारी बनकर बैठने का आग्रह : गठबन्धन

hospitalized

हिमालीनि डेस्क,१६ चैत्र २०७३ |  सिरहा के लहान स्थित हिरासत मे रखे गये गठबन्धन के राष्ट्रिय संयोजक डा. राउत साथ रहे अशोक यादव, बिपीन यादव और रामशंकर यादव अत्यन्त सिकिस्त होकर १०४ डिग्रीकी बुखार में तरप रहें हैं |  प्रहरी प्रशासन द्वारा इनलोगों के साथ अभद्र व्यबहार  “मूँजी यी देशद्रोहीहरुलाई भित्रै मर्न दे जैसा व्यबहार किया जाता है ।”  प्रहरीके अश्लिल विभेदपूर्ण व्यवहार के खिलाप गठबन्धन के गिफ्तार लोगोंद्वारा भितर से ही “नेपाली विभेद बन्द गर, मधेश अब खाली गर” जैसा नारा लगाया गया |  तब जाकर कल दोपहर ११:०० बजे स्थानीय अस्पताल मे नाम मात्र का चेक जाँच कराया गया । अर्थहीन और अपुष्ट अपराध के नाम मे अनुसंधान के लिये पिछले ५३  दिनोंसे सिरहा के लहान, रौतहट और रुपन्देही के प्रहरी हिरासतों मे इनलोगों को रखा गया है |  डा.राउत और गठबन्धन के नेताओं की रिहाई के लिए मिति २०७३ चैत्र १४ गते जिल्ला प्रशासन कार्यालय सिरहा मे ज्ञापन–पत्र देने को गए स्वतन्त्र मधेश गठबन्धन के जिल्ला नेता चन्देश्वर महतो और सन्तोष यादव को “हाम्रो जिउमा रगत रहुञ्जेल हामी लड्छौं । देशद्रोहीहरु लाई ज्ञापनपत्र दिने यत्रो हिम्मत कसरी भयो ? लानुस् यो ज्ञापनपत्र, म बुझ्दिन ।” कहकर ज्ञापन–पत्रका फोटो खिच नेताओं का नाम और ठेगाना लिखकर धम्काया भी गया | अपने कार्यालय से भगाने की घटना से कर्मचारी की रुपमे कार्यरत CDO ने नेतागिरी का दम्भ दिखाया यह समझा जा रहा है । नेपाली शासक – कर्मचारी को कर्मचारी की गरिमा भितर रहकर बिना भेदभाव संघ संस्था और जनसमूहकी काम और जिज्ञासामे सहभागी होनेको निर्देशन करदेने के लिए नेपाल सरकार, सरकारकी सम्बन्धित निकाय, राजनीतिक दल, नागरिक समाज, राष्ट्रिय तथा अन्तरराष्ट्रिय मानव अधिकारवादी संघ संगठन, कानुन व्यवसायी, शिक्षक, प्राध्यापक, बुद्धिजिवी, यूवा, विद्यार्थी तथा आम जनता मे हार्दिक अपिल गठ्बन्धन द्वारा किया गया है |

 

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of