Mon. Oct 22nd, 2018

स्वतन्त्र न्यायपालिका का औचित्य हमेशा ही बरकरार रहेगा

nyaypalika
हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, ७ मई ।
वरिष्ठ अधिवक्ताओं और कानून विदों ने लोकतंत्र सुदृढीकरण में न्यायपालिका की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए सुप्रीम कोर्ट के द्वारा कल जारी किए गए अंतरिम आदेश को स्वागत योग्य बताया है ।
न्यायपालिका व लोकतन्त्र बचाओ अभियान के द्वारा राजधानी में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व महान्यायाधिवक्ता एवं वरिष्ठ अधिवक्ता बद्रीबहादुर कार्कीे, संविधानविद निलाम्बर आचार्य, वरिष्ठ अधिवक्ताओं श्रीहरि अर्याल, रामप्रसाद श्रेष्ठ, शम्भु थापा, कानुनविद डॉ. सुरेन्द्र भण्डारी, नेपाल बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अधिवक्ता उषा मल्ल लगायत वक्ताओं का कहना था कि स्वतन्त्र न्यायपालिका का औचित्य हमेशा ही बरकरार रहेगा ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of