Sun. Nov 18th, 2018

काठमांडू, २६ नवम्बर । ३२ जिला में प्रथम चरण में सम्पन्न प्रतिनिधिसभा और प्रदेशसभा निर्वाचन में ६५ प्रतिशत मतदाताओं ने अपनी मताधिकार प्रयोग किया है । यह प्रारम्भीक अनुमान है । मतदान प्रतिशत बढ़ भी सकता है । निर्वाचन आयोग ने कहा है कि समग्र में शान्तिपूर्ण रुप में मतदान सम्पन्न हुआ है । आइतबार शाम विशेष पत्रकार सम्मेलन करते हुए प्रमुख निर्वाचन आयुक्त डा. अयोधीप्रसाद यादव ने कहा है कि चुनाव ऐतिहासिक रुप में सम्पन्न हुआ है ।
मतदान सम्पन्न उच्च पहाडी और हिमाली जिला में से बाजुरा में सबसे ज्यादा ८० प्रतिशत मतदाताओं ने अपना मताधिकार प्रयोग किया है । स्थानीय तह चुनाव की तुलना में इस बार कम मतदान हुआ है । विश्लेषकों का मानना है कि प्राकृतिक कारण, मौसम और जनता में चुनाव के प्रति उत्साह कम होना आदि कारण इस बार कम मतदान हुआ है । प्रथम चरण के लिए निर्धारित ४ हजार ४६५ मतदान केन्द्र में से दो मतदान केन्द्र का मतदान स्थगित हुआ है ।
निर्वाचन आयोग के अनुसार रूकुम जिला बाफीकोट, काडा स्थित रत्न मावि ‘क’ केन्द्र और रूकुम जिला के ही आठवीसकोट ११ गत्तसैना स्थित नेपाल राष्ट्रिय माविको ‘ख’ केन्द्र में पुनः मतदान किया जाएगा । रत्न मावि केन्द्र में प्रतिनिधिसभा प्रत्यक्ष तरफ और नेपाल राष्ट्रिय मावि केन्द्र में समानुपातिक तरफ की मतपेटिका में आगजनी हो गया है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of