Wed. Oct 23rd, 2019

बर्दिया मे तीन कार्यक्रमो का बार्षिक समिक्षा

sikchhaसन्दिप कुमार बैश्य , पौष ८ गते , बर्दिया
सेभ  द चिल्डेन के अर्थिक सहयोग से दलित सेवा संघ बर्दिया शाखा व्दारा आयोजित बिभिन्न ३ प्रकार के कार्यक्रम को कल रबिबार को सामाजिक लेखा परिक्षण तथा बार्षिक समिक्षा  कार्यक्रम सम्पन्न किया गया है । बाल बिकास कार्यक्रम के लिए शिक्षा कार्यक्रम , जिविका पार्जन तथा पोषण सुधार कार्यक्रम और बालिका संरक्षण तथा बिकास कार्यक्रम करके ३  कार्यक्रम संचालन मे रहने की जानकारी दलित सेवा संघ बर्दिया शाखा ने दी है  । समिक्षा  कार्यक्रम मे ३ प्रकार के कार्यक्रम मे हुई  मुख्य उपलब्धी , सामज मे  बालबालिकाओ व्दारा निभायागया भुमिका लगायत अन्य बिषयों मे भी ३ प्रकार के कार्यक्रम के  फिल्ड स्तर के सहजकर्ता और बिभिन्न सरोकारवाला निकायो के प्रमुख तथा प्रतिनिधीयो के बिच र्चचा परिर्चचा किया गया  बाल बिकास के लिए शिक्षा कार्यक्रम के कार्यक्रम अधिकृत तारा बहादुर सुनार ने बताया है । उक्त  समिक्षा  कार्यक्रममो को बिभिन्न ३ चरण मे सम्पन्न किया गया था । पहिला चरण मे ३ प्रकार के कार्यक्रम मे बिनियोजित किया गया रकम कौन कौन शिर्षक मे कितना खर्च किया गया उसकी बार्षिक प्रगति प्रतिबेदन सस्था की  कार्यलय प्रमुख दुर्गा क्षेत्री ने पेश की थी । उसी तरह  दुसरे चरणमे बास बाकेके निर्देशक नमस्कार शाहने ३ प्रकारोके कार्यक्रमकी समुदाय स्तर से संकलन की गई नगरिक प्रतिबेदन पत्र पेश किया था  । उसी तरह  तिसरे चरणमे  बाल बिकासके क्ष्ँेत्रमे उल्लेखनीय योगदान दिया है इस लिए बिभिन्न  बिद्यालयके ६  शिक्षक शिक्ष्ँिकाओको दोसल्ला ओढाकर सम्मान पत्र समेत बितरण किया गया बाल बिकासको लिए शिक्षा कार्यक्रमके कार्यक्रम अधिकृत सुनारने बताया । बनियाभार गाबिसमे रहा श्री जनचेतना नि.मा.बिकी शिक्षिका रजनी थारु , पदनाहा गाबिसमे रहे श्री जन शक्ति निमाबिका शिक्षक बलीराम थारु , धधवार गाबिसमे रहा श्री धर्म युवक माविका शिक्षक कृष्ण बहादुर बि.क. ,पताभार गाबिसमे रहा नेरा प्राबिके शिक्षक कर्म बहादुर चौधरी , गोला गाबिसमे रहा नेरानि माबिका शिक्षिका कमला जि.सी. और मनाउ गाबिसमे रहा श्री दिब्य ज्योती प्राबिके शिक्षिक कल्पना खडकाको मिलाकर  ६ लोगोको सम्मान पत्र बितरण किया था । बालिका संरक्षण तथा पोषण सुधार कार्यक्रमके लिए २३ लाख ४० हजार ९१ रकम बिनियाजित हुआ था मगर उसमे से २२ लाख ७७ हनार ६ सय ६२ रुपैया खर्च हुआ था , जिविको पार्जन तथा पोषण सुधार कार्यक्रमको े लिए १ करोड १० लाख ७४ हनार ३ सय ३१  रकम बिनियाजित हुआ था मगर उसमे से १ करोड ९ लाख ५२ हनार ९ सय १ रुपैया खर्च हुआ था और बाल बिकासके लिए शिक्षा कार्यक्रममो २५ लाख रकम बिनियोति हुआ था मगर २२ लाख ७२ हजार ५ सय ९६ रुपैया खर्च हुआ था सस्थाने जानकरी दि । कार्यक्रमका  संचालन बाल बिकासके लिए शिक्षा कार्यक्रमके कार्यक्रम अधिकृत तारा बहादुर सुनारने किया था ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *