Sun. May 19th, 2024

भारतीय राजदूत श्री नवीन श्रीवास्तव ने संयुक्त रुप में मंगलादेवी बर्थिङ (प्रसुति) सेन्टर त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल के प्रतिनिधि को किया हस्तान्तरण

काठमांडू, २२ कात्तिक – नेपाल में सञ्चालित उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना के सफल कार्यान्वयन का २० वर्ष पहुँचने के उपलक्ष्य में भारतीय राजदूतावास ने भारत सरकार के अनुदान सहयोग में त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल में निर्मित मंगलादेवी बर्थिङ (प्रसुति) सेन्टर त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल के प्रतिनिधि को हस्तान्तरण किया है ।




नेपाल सरकार के माननीय अर्थमन्त्री ड‘ा. प्रकाशशरण महत, माननीय सङ्घीय मामिला तथा सामान्य प्रशासन मन्त्री श्रीमती अनिता देवी तथा नेपाल के लिए भारतीय राजदूत श्री नवीन श्रीवास्तव ने संयुक्त रुप में उक्त बर्थिङ सेन्टर हस्तान्तरण किया है । उक्त समारोह में राजनीतिक प्रतिनिधि, नेपाल सरकार के अधिकारी, समाजसेवी तथा स्थानीय समुदाय के अगुवा की भी सहभागिता थी इसी अवसर में भारतीय अनुदान सहयोग अन्तर्गत नेपाल के बैतडी और मुस्ताङ्ग जिला में कुल अनुमानित लागत नेरु. १३ करोड़ और तीन उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना के निर्माण के लिए समझौता पत्र में हस्ताक्षर किए गए हैं ।
त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल नेपाल के प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्था में से एक है । नेपाल–भारत विकास सहकार्य ढाँचा अन्तर्गत उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना के रुप में भारत सरकार को आर्थिक सहयोग नेरु. ४.४०४ करोड़ लागत में त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पतालमा मंगलादेवी बर्थिङ सेन्टर का निर्माण किया गया है । कोविड–१९ महामारी के समय में और इस अस्पताल के विभिन्न विभाग को २ थान ४० केभीए डिजल जेनेरेटर, ५ बस और २ एम्बुलेन्स उपलब्ध किया है । जिसमें से एक एम्बुलेन्स में एडभान्स लाइफ सर्पोट की सुविधा है । त्रिभुवन विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल के प्रतिनिधि ने इस बर्थिङ सेन्टर नर्स द्वारा रेखदेख करने के बारे में बताया । नेपाल के अन्य क्षेत्र में कार्यान्वयन के लिए ये बर्थिङ सेन्टर नमुना बर्थिङ सेन्टर के रुप में काम कर सकती है । साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि इससे मातृ मृत्युदर घटाने भी मदद मिलेगी ।


स्थानीय तह में कार्यरत नेपाली संस्था द्वारा भारत के अनुदान सहयोग में छोटे विकास परियोजना का कार्यान्वयन करने के लिए नेपाल सरकार और भारत सरकार के बीच द्विपक्षीय सम्झौता के द्वारा वि.सं २०६० कार्तिक २१ गते उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना की शुरुआत की थी । जिसे पहले छोटे विकास परियोजना के नाम से पहचाना जाता था । ये परियोजना नेपाल के साथ किए गए विकास साझेदारी का एक नवीन एवम् महत्वपूर्ण अंश के रुप में है । नेपाल सरकार की प्राथमिकता में रहे क्षेत्रों में पूर्वाधार निर्माण कर नेपाल के नीचले तह के व्यक्तियों के जीवनस्तर में सुधार करने के लिए इन परियोजनों का कार्यान्वयन किया गया है ।
कार्यक्रम में बोलते हुए राजदूत श्रीवास्तव ने बताया कि विगत बीस वर्ष में उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना कार्यान्वयन की यह यात्रा बहुत ही सफल रही है । सन् २००३ शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क तथा पुल, नदी प्रशिक्षण, खानेपानी, विद्युत, सिंचाइ, संस्कृति, समाज कल्याण जैसे विविध क्षेत्र में करीब ५५० परियोजना इस ढाँचा के अन्तर्गत आगे बढ़ाए जाने पर सन्तोष व्यक्त करते हुए राजदूत श्रीवास्तव ने कहा कि इन परियोजनाओं से व्यक्ति के जीवन में प्रत्यक्ष प्रभाव पड़ेगा । इन परियोजना मध्ये ४८० परियोजना सम्पन्न हो चुकी है तथा बांकी निर्माणाधीन अवस्था में है ।


नेपाल के सभी प्रदेश में उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना को आगे बढ़या गया है । कोशी प्रदेश में ८४ परियोजना, मधेश प्रदेश में ८१ परियोजना, बागमती प्रदेश में १०५ परियोजना, गण्डकी प्रदेश में ६१ परियोजना, लुम्बिनी प्रदेश में ६० परियोजना, कर्णाली प्रदेश में १४ परियोजना और सुदूरपश्चिम प्रदेश में ४१ परियोजना सञ्चालित है ।
माननीय अर्थमन्त्री महत ने नेपाल में विकास पूर्वाधार निर्माण में निरन्तर सहयोग देते रहने के लिए भारत को धन्यवाद दिया है । उन्होंने कहा कि नेपाली जनता के जीविकोपार्जन में प्रभाव डालने वाली इन परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए नेपाल सरकार पूर्ण सहयोग करेगी । इस बात की सुनिश्चितता भी दिलाई । माननीय सङ्घीय मामिला तथा सामान्य प्रशासन मन्त्री श्रीमती अनिता देवी ने भी भारत द्वारा दिए गए सहयोग के लिए धन्यवाद व्यक्त किया ।
इसी तरह प्रत्येक वर्ष अपनी स्वतन्त्रता दिवस और गणतन्त्र दिवस के उपलक्ष्य में भारत सरकार स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में काम में विभिन्न संस्थाओं को एम्बुलेन्स तथा स्कूल बस उपहारस्वरुप प्रदान करती आई है । हाल तक नेपाल के विभिन्न भाग के लाभार्थी को ९७४ एम्बुलेन्स और २३४ स्कूल बस उपहार स्वरुप प्रदान किया है । प्रत्येक सप्ताह एक एम्बुलेन्स और प्रत्येक महीना एक बस उपहार स्वरुप प्रदान कर रही है । इन सेवा से स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया है ।
कार्यक्रम में उच्च प्रभाव सामुदायिक विकास परियोजना के कार्यान्वयन का विगत बीस वर्ष की यात्रा का चित्रण कर छोटा सा एक विडियो भी दिखाया गया था ।



About Author

यह भी पढें   विपक्षी दलों की बैठक में जनमत अनुपस्थित, राप्रपा, लोसपा, जसपा, शामिल
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: