Mon. Jun 17th, 2024

जनकपुर में अनुगमन पश्चात दवा विक्रेताओं में अफरातफरी

जनकपुरधाम.7 दिसम्बर



मधेश की राजधानी जनकपुरधाम में औषधि प्रशासन विभाग द्वारा निगरानी शुरू करने के बाद अवैध दवा दुकानदारों ने अपनी दुकानें बंद कर दी हैं.

विभाग के शाखा कार्यालय बीरगंज के अधिकारी मुकेंद्र पंजियार के नेतृत्व में टीम पिछले मंगलवार से दवा दुकानों और फार्मेसियों की निगरानी कर रही है।

विभाग की बीरगंज शाखा के फार्मेसी अधिकारी सरफराज अहमद खान ने बताया कि बिना रजिस्ट्रेशन के संचालित अधिकांश दवा दुकान मालिक अपनी दुकानें बंद कर भाग गये हैं ।

उनके मुताबिक, 65 अस्पतालों, थोक फार्मेसियों और दवा दुकानों में निगरानी की गई है. यह पाया गया है कि अधिकांश अस्पतालों के पास अपनी फार्मेसी नहीं है और परिसर को किराए पर देकर बाहरी लोगों द्वारा संचालित किया जा रहा है।

यह भी पढें   भारतीय महावाणिज्य दूतावास, बीरगंज द्वारा योग कार्यक्रम का आयोजन

कुछ पंजीकृत दवा दुकानों में फार्मासिस्ट नहीं हैं तथा उपस्थित लोगों ने बताया कि वे विभिन्न कार्यों से बाहर हैं. उन्हें यह सुभःाव दिया गया कि अगर फर्मासिस्ट ना हों तो दुकान बंद कर दी जाए ।

टीम का कहना है कि पूर्व में भी जब वे निगरानी के घेरे में आये थे तो अवैध दवा दुकानें बंद कर भाग गये थे.



About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: