Tue. Feb 27th, 2024

पंचम अंतरराष्ट्रीय साहित्य उत्सव जनकपुरधाम में शुरू



जनकपुरधाम/मिश्री लाल मधुकर। नेपाल हिन्दी प्रतिष्ठान जनकपुरधाम नेपाल एवं शान्ति निकेतन हिन्दी प्रचार सभा शान्ति निकेतन पश्चिम बंगाल, भारत द्वारा पंचम अंतरराष्ट्रीय साहित्य उत्सव 2023आयोजित की गयी है। प्रथम उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता में राघवेन्द्र साह ने किया। कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि नेपाल गणतंत्र के प्रथम राष्ट्रपति डॉ.राम बरण यादव थे।इस अवसर पर उन्होंने कहा कि स्व.राजेश्वर नेपाल हिन्दी के लिए आजन्म लड़ते रहे। वे हिन्दी में लोकमत साप्ताहिक की शुरुआत की।अपनी ओजस्वी कविता राजतंत्र के विरोध में लिखते रहे।इस कविता को लेकर उन्हें की बार जेल भी जाना पड़ा। पूर्व राष्ट्रपति डा.राम बरण यादव ने कहा कि नेपाल में सभी भाषा को सम्मान मिलनी चाहिए। हिंदी भी हकदार हैं। उन्होंने कहा कि हिंदी भारत तथा नेपाल के सेतु के रूप में काम कर रहा है।

कार्यक्रम में भारत की ओर जली बेगम, शबाना साजिद,धराश्वरी मोहंती, मिताली साइकिया, प्रदीप कुमार सिंह देव को भाषा भारती पुरस्कार से नवाजा गया।इसी तरह नेपाल की ओर से खुशी लाल मंडल,राम स्वार्थ ठाकुर, श्रीमती आशा सिन्हा तथा शिवशंकर यादव को भाषा भारती पुरस्कार से नवाजा गया। राघवेन्द्र साह की अध्यक्षता में अतिथियों को स्वागत राम चंद्र राय ने किया। कार्यक्रम में भारतीय बाणिज्य महादूतावास वीरगंज के बाणिज्य महादूत श्री देवी सहाय मीणा, साहित्यकार डा.राजेन्द्र विमल,जसपा नेत्री तथा सांसद रेखा यादव, भारत सरकार के नीति आयोग के सदस्य तथा शान्ति निकेतन में प्रो. रह चुके प्रणव चट्टोपाध्याय, जनकपुरधाम उप महानगरपालिका के उप मेयर किशोरी साह, हिन्दी भाषा अभियानी रमन पांडेय ने संबोधित किया।मंच संचालन गोरखा पत्र संस्थान के पूर्व महा प्रबंधक सीता राम अग्रहरि ने किया। कार्यक्रम में नेपाल भारत के पचास से अधिक साहित्यकार तथा कवि भाग ले रहे हैं।



About Author

यह भी पढें   लुम्बिनी प्रदेशसभा सदस्य यादव निलम्बित
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: