Wed. Apr 24th, 2024

अयोध्या में रामलला के जलाभिषेक के लिए नेपाल की नदियों का जल भेजा गया



काठमांडू 29 दिसंबर । अयोध्या में भगवान राम के मंदिर प्राण प्रतिष्ठान का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, देशभर में राम भक्तों की आस्था और विश्वास बढ़ती जा रही है. वहीं, रामलला के जलाभिषेक के लिए नेपाल की नदियों का जल एकत्रित कर अयोध्या ले जाया जा रहा है. नेपाल के जनकपुर से निकली जलाभिषेक यात्रा देर रात गोपालगंज पहुंची, जहां राम भक्तों ने भव्य तरीके से रथ का स्वागत किया और पूजा-अर्चना भी की.

जलाभिषेक यात्रा में शामिल नेपाल के गहवा माई रथ यात्रा समिति के सचिव दीपेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने बताया कि नेपाल में नदियों के पवित्र जल को जनकपुर से अयोध्या ले जा रहा है. इसमें नेपाल की बागमती, नारायणी, गंगा सागर, दूधमति, काली, गंडकी, कोशी, कमला आदि नदियों का जल शामिल है, जिसे प्रभु श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा के समय पूजन विधि में उपयोग किया जाएगा.

गोपालगंज में विधिवत पूजन के बाद जलाभिषेक का रथ विभिन्न स्थान से गुजरते हुए शुक्रवार (29 दिसंबर) को अयोध्या पहुंचेगा. समिति के सदस्य श्री राम मंदिर जन्मभूमि न्यास को यह जल सौंपेंगे. यहां बता दें कि मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के समय पूजन में विभिन्न पवित्र नदियों के जल से भगवान की मूर्ति का स्नान कराया जाएगा.

अयोध्या में रामलला के जलाभिषेक के लिए नेपाल की नदियों का जल एकत्रित किया गया है. बागमती, नारायणी, गंगा सागर, दूधमति, काली, गंडकी, कोसी, कमला आदि नदियों का जल भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा के समय पूजन विधि में उपयोग किया जाएगा. नदियों के पवित्र जल को गहवा माई रथ यात्रा समिति के साथ नेपाल हिंदू परिषद की ओर से जनकपुर से अयोध्या ले जाएगा. राम मंदिर को लेकर नेपाल में राम भक्त काफी उत्साहित दिख रहे हैं. बता दें कि मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के समय पूजन में विभिन्न पवित्र नदियों के जल से भगवान की मूर्ति का स्नान कराया जाता है.



About Author

यह भी पढें   रफाह पर इजरायल के हवाई हमले में 22 फलस्तीनियों की मौत
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: