Fri. Jul 19th, 2024

खेलाडियों सम्मानित किया गया

नेपालगन्ज/(बाँके) पवन जायसवाल । बाँके जिला के नेपालगन्ज से भारत के हैदराबाद में १० वीं विश्व स्ट्रेन्थलिफ्टिङ तथा ईन्क्लाईन बेन्च पे्रस प्रतियोगिता २०२३ में स्वर्ण पदक बिजेता दन्तरोग बिशेषज्ञ डा. प्रतिक श्रेष्ठ और रजत पदक बिजेता सन्तोष काजी शाक्य सहित के खेलाडियों को पौष  १४ गते शनिवार एक कार्यक्रम के बीच सम्मानित किया गया है । 



बाँके जिला स्ट्रेन्थलिफ्टिङ संघ, लाईफलाइन अस्पताल और गणपति डेन्टल क्लिनिक नेपालगन्ज के आयोजना में लाईफलाइन अस्पताल के अध्यक्ष अशोक श्रेष्ठ के प्रमुख आतिथ्य में स्ट्रेन्थलिफ्टिङ संघ के उपाध्यक्ष सौरभ कर्माचार्य के अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ था । 

भारत के हैदराबाद में इसी पौष २ गते से ५ गते तक ( १८ से २२ डिसेम्बर, २०२३ ) १० वीं विश्व स्ट्रेन्थलिफ्टिङ तथा ईन्क्लाईन बेन्च पे्रस प्रतियोगिता में नेपालगन्ज के निवासी डा. प्रतिक श्रेष्ठ ने ९५ किलो तौल पुरुष सिनियर तर्फ की प्रतिस्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने में सफल हुये है । 

इसी तहर के नेपालगन्ज वडा नं.२ घरवारीटाल के निवासी सन्तोषकाजी शाक्य ने ७६ किलो तौल पुरुष मास्टर वानतर्फ की प्रतिस्पर्धा में उन्हों ने रजत पदक जीतने में सफल हुये थे । वो दोनों खेलाडियों नगद रकम सहित शिल्ड, मेडल और प्रमाणपत्र प्राप्त किये थे । वह प्रतियोगिता में नेपाल से ४५ लोग  खेलाडियों की सहभगिता मध्य में बाँके जिला से  ५ लोग खेलाडियों की सहभगिता रही थी जिस मध्ये दन्तरोग बिशेषज्ञ डा. प्रतिक श्रेष्ठ स्वर्ण पदक और रजत पदक सन्तोष काजी शाक्य जीते थे, इसी तरह नेपालगन्ज के देवेन्द सिंह, मोहित गुप्ता और अनिल सिंह सिजापति की भी भारत के हैदराबाद प्रतियोगिता में सहभागिता रही थी । स्वर्ण पदक विजेता डा. प्रतिक श्रेष्ठ ने सहित वो लोगों ने  १६ स्वर्ण, १४ रजत और चार कांस्य पदक जीते थे बताया ।

यह भी पढें   नेपाल-भारत सीमा चौकी का अवलोकन

वह कार्यक्रम में लाईफलाइन अस्पताल नेपालगन्ज के अध्यक्ष तथा कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि अशोक श्रेष्ठ ने दन्तरोग बिशेषज्ञ डा. प्रतिक श्रेष्ठ और रजत पदक बिजेता सन्तोष काजी शाक्य खेलाडी को पदक, अबीर और देवेन्द सिंह, मोहित गुप्ता और अनिल सिंह सिजापति को अबीर लगाकर सम्मान किया था ।

इसी तरह वह कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि अशोक श्रेष्ठ ने नेपाल देश की गौरब बढाया और नेपालगन्ज की नाम भी रोशन किया इस लिये मैं वो खेलाडियों हृदय से धन्यवाद देना चाहता हूँ इस खेल के खेलाडियों को सहयोग सहयोग करेंगे बताया । स्ट्रेन्थलिफ्टिङ संघ के केन्द्रीय सदस्य तथा रजत पदक बिजेता सन्तोष काजी शाक्य ने ३५ वर्ष से मैं इस खेल में लगा हूँ बताया, लाईफलाइन अस्पताल के सञ्चालक डा. पारस श्रेष्ठ लगायत लोगों ने अपनी बिचार रक्खा था स्ट्रेन्थलिफ्टिङ खेलाडियों को सहयोग करने की प्रतिवद्धता व्यक्त किया था ।

यह भी पढें   आज का पंचांग: आज दिनांक: 19 जुलाई 2024 शुक्रवार शुभसंवत् 2081


About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: