Sat. Jun 15th, 2024

बाल यौन शोषण के मुद्दें में रामबहादुर बम्जन जिला अदालत सर्लाही में



काठमांडू, पुष २६ – बाल यौन शोषण के मुद्दें में रामबहादुर बम्जन को जिला प्रहरी कार्यालय सर्लाही ने गुरुवार सरकारी वकिल के कार्यालय में उपस्थित कराकर जिल्ला अदालत में पेश किया है । उसके विरुद्ध जिला अदालत में ‘यौन सन्तुष्टि प्राप्त करने तथा बाल यौन शोषण’के आरोप में मुद्दा दिया गया था ।
काठमांडू से सर्लाहीलाए गए अभियुक्त बम्जन को पहले सरकारी वकिल के कार्यालय में ले जाया गया था । वहाँ आवश्यक प्रक्रिया पूरा कर बम्जन को जिला अदालत में पेश किया है ।
जिला अदालत में गोलाप्रथा से उसका मुद्दा न्यायाधीश विष्णुप्रसाद रेग्मी के इजलास में पड़ा था । उनके बयान के बाद सुनवाई का काम हो रहा है । बम्जन विरुद्ध १२ से १४ वर्ष तक सजा की मांग को लेकर सुनवाई हो रही है । दाबी गरी उसे जेल में रखने, तारीख या जमानत में रखकर मुद्दा चलाने के बारे में न्यायाधीश ने आदेश देंगे ।
सर्लाही के पत्थरकोट स्थित बम्जन के आश्रम स्थल में आनी बनेर एक बालिका से जबर्जस्ती करने का आरोप लगाया । तपस्वी रामबहादुर बम्जन विरुद्ध बाल यौन शोषण का मुद्दा डाला गया था । २०७३ साल सावन २० गते रात ९ बजकर २० मिनेट के समय में आश्रम स्थल में ही आनी बनेर नामक जो आश्रम में ही रह रही थी । उस बालिका को विभिन्न तरह के प्रलोभन दिखाकर अपने सोने के कमरे में जबर्जस्ती कर यौन सन्तुष्टि लेने की तथा पीडि़ता को डर, धाक, धमकी दिखाया गया ।यह कहकर दायर किया गया था । जिस वक्त यह घटना घटी थी उस वक्त पीडि़ता बालिका १५ वर्ष की मात्र थी ।

उसने १८ वर्ष की होने के बाद २०७६ माघ २३ गते जिला प्रहरी कार्यालय में शिकायत दर्ज की थी । अदालत ने बम्जन को गिरफ्तार करने की अनुमति देने के बाद फरार हो गया था ।



About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: