Tue. May 21st, 2024

रामनवमी के दिन क्यों होती है हनुमान जी की पूजा



भगवान श्री रामचंद्र जी के जन्मोत्सव को रामनवमी के रूप में मनाया जाता है. इस वर्ष रामनवमी के दौरान रवि योग बन रहा है, जिस कारण इस वर्ष की रामनवमी काफी खास मानी जा रही है. रामनवमी के दौरान लोग भगवान श्री राम की पूजा और आराधना करते हैं और उन्हें प्रसन्न करने के लिए कई प्रकार की सामग्री का भोग लगाते हैं. लेकिन, रामनवमी के दौरान लोग प्रभु श्री रामचंद्र जी के सबसे अनन्य भक्त हनुमान जी की भी पूजा-अर्चना करते हैं. ऐसी मान्यता है कि रामनवमी के दिन हनुमान जी की पूजा करने से भक्तों के सभी प्रकार के संकट का हरण हो जाता है. हनुमान जी को कलयुग का देवता भी माना गया है और कहा जाता है कि हनुमान जी की पूजा करने से प्रभु श्री रामचंद्र जी भी प्रसन्न हो जाते हैं.

रामनवमी के दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है, क्योंकि हनुमान जी भगवान श्री राम के सबसे अनन्य भक्त हैं और हनुमान जी की पूजा करने से प्रभु श्री रामचंद्र जी भी प्रसन्न होते हैं. इतना ही नहीं प्रभु हनुमान जी की पूजा करने के दौरान अगर भगवान राम के चरित्र का गुणगान किया जाए तो हनुमान जी भी अत्यंत प्रसन्न हो जाते हैं.

यही कारण है कि रामनवमी के दिन लोग अपने घर में हनुमान जी की ध्वजा का ही आरोहण करते हैं. इसे विजय पताका के रूप में भी देखा जाता है. ऐसे में अगर आप रामनवमी के दिन भगवान श्री रामचंद्र जी की पूजा कर रहे हैं, तो आप हनुमान जी की भी पूजा करें, ऐसा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है.



About Author

यह भी पढें   अन्हार घर में डिबिया पुस्तक कवर का हुआ सार्वजनिक
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: