Mon. Jun 17th, 2024

दुबई में हुई भारी बारिश की आखिर क्या है वजह ?

एपी, दुबई।



संयुक्त अरब अमीरात  में मंगलवार को हुई भारी बारिश की एक वजह ‘क्लाउड सीडिंग’ हो सकती है। इसमें छोटे विमान बादलों के बीच से गुजरने के दौरान विशेष नमक की लपटें छोड़ते हुए जाते हैं जिससे बारिश होती है। विज्ञानी जलवायु परिवर्तन को भी ऐसी मौसमी घटनाओं का कारण मान रहे हैं।

सोमवार से शुरू होकर मंगलवार को पूरे दिन बहरीन, ओमान, कतर और सऊदी अरब में भी बारिश हुई, लेकिन यूएई में बारिश तेज थी। सरकारी समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम ने इसे मौसम की ऐतिहासिक घटना कहा जो 1949 में आंकड़ों का एकत्रीकरण शुरू होने के बाद से दर्ज बारिश के किसी भी आंकड़े से अधिक रही।

राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों के हवाले से कई खबरों में बताया गया कि भारी बारिश से पहले उन्होंने छह या सात क्लाउड सीडिंग उड़ानें संचालित की थीं। हालांकि, मौसम विज्ञान केंद्र ने इस बारे में बुधवार को कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी।

यह भी पढें   रास्वपा ने सुसंस्कृत राजनीति का अभियान छेड़ा है – डा.  स्वर्णिम वाग्ले

फ्लाइट ट्रैकिंग डाटा के विश्लेषण से पता चला कि यूएई के क्लाउड सीडिंग प्रयासों से जुड़े एक विमान ने सोमवार को देश के ऊपर उड़ान भरी थी। यूएई अपने घटते भूजल का स्तर बढ़ाने के लिए क्लाउड सीडिंग का सहारा लेता है। दुबई में मंगलवार रात तक 24 घंटों में 5.59 इंच बारिश हुई, जबकि एक औसत वर्ष में दुबई इंटरनेशल एयरपोर्ट पर 3.73 इंच बारिश दर्ज होती है।

अबुधाबी में अल ऐन के नजदीक के इलाके अल-शकला में मंगलवार को सबसे अधिक (10 इंच) बारिश हुई।यूएई के पूर्वी तट पर स्थित अमीरात फुजैरा में 5.7 इंच बारिश दर्ज की गई।यूएई में बुधवार को भी स्कूल बंद रहे और सरकारी कर्मचारियों ने यथासंभव घर से काम किया। सड़कों और राजमार्गों से पानी निकालने के लिए प्रशासन ने टैंकर ट्रक लगाए हैं। मलबा भी हटाया जा रहा है। लोगों के घरों तक में पानी भरा है। राहत की बात यह है कि जान-माल का ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है।

यह भी पढें   कुवैत के एक भवन में आग लगने से ४९ लोगों की मृत्यु

पुलिस ने बताया कि वाहन बह जाने की वजह से रास अल खैमाह में एक 70 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। दुनिया के सबसे व्यस्ततम हवाई अड्डों में से एक दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टैक्सीवे पर जलभराव के कारण मंगलवार रात विमानों का आवागमन रोक दिया गया।

जलभराव के चलते उड़ानें प्रभावित
दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने बुधवार को स्वीकार किया कि जलभराव की वजह से परिचालन के विकल्प सीमित रह गए और उड़ानें प्रभावित हुई हैं, क्योंकि विमानों के चालक दल हवाई अड्डे तक नहीं पहुंच सके। परिचालन सामान्य होने में कुछ समय लगेगा।

यह भी पढें   तीसरी बार मोदी सरकार : डॉ श्वेता दीप्ति

एयरपोर्ट के सीईओ पाल ग्रिफिथ ने बताया कि जलभराव की स्थिति बुधवार सुबह भी बनी रही, लिहाजा कुछ विमानों को दुबई के ही अल मकतोम एयरपोर्ट पर डायवर्ट करना पड़ा। कई एयरलाइनों ने दुबई से आने-जाने वाली कई उड़ानों को रद कर दिया है।



About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: