Mon. Jun 17th, 2024

नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा द्वारा रक्तदान कार्यक्रम

नेपालगन्ज/(बाँके) पवन जायसवाल । नेपाल राष्ट्र बैंक की ६९वीं वार्षिकोत्सव के अवसर पर बैशाख १५ गते शनिवार को नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा की आयोजन में महिला और पुरुष करके ४३ लोगों ने रक्तदान किया ।



६९ वीं वार्षिकोत्सव के अवसर पर आयोजित रक्तदान कार्यक्रम में नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा के उपनिर्देशक रामकुमार कार्की ने प्रादेशिक रक्त सञ्चार सेवा केन्द्र नेपालगञ्ज के प्राविधिक राजेन्द्र महतरा को खून संकलन करने वाली पाकेट हस्तान्तरण करके कार्यक्रम की शुभारम्भ किया था ।

नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा के सहायक निर्देशक तथा रक्तदान कार्यक्रम के संयोजक किरण दिक्षित के संयोजकत्व में ६९ वीं वार्षिकोत्सव के अवसर पर पुष्पराज जोशी, सरोज सुवाल, नेत्र बोगटी, सुवेश श्रेष्ठ, मन कुमारी रोका, सागर अधिकारी, दिल बहादुर थारु, हिमाल पाण्डे, रोशन गुरुङ्ग, संगीता बराल, सीता खडका, ममिता कुवँर, सोनु रिजाल, सन्दिप लामिछाने, गीता कुमारी भुषाल, ममता रावत, रेणु सुनाल, बिन्दु पन्थी, ज्योति सुनार, हरि भण्डारी, भियुसेन रोकामगर, अलका शर्मा, पुनम बैश्य, किरण गिरी, ओम बहादुर सारु, नबिन भट्टराई, धन कुमार कुमाल, प्रकाश आचार्य, अर्जुन बहादुर धामी, नन्द बहादुर खत्री, राजहंश बैश्य, दिपेश गुप्ता, प्रमित थारु, आकाश गुप्ता, राजेश कुमार थारु, फरमान सैयद, रामनरेश तमोली, सहबीर थापा, चेतना रिमाल, रोशन न्यौपाने, रबि कनौजिया, युवराज न्यौपाने, सन्तोष रावल लगायत ४३ लोगों ने रक्तदान किया था । नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा के उपनिर्देशक रामकुमार कार्की और सहायक निर्देशक तथा रक्तदान कार्यक्रम किरण दिक्षित ने रक्तदाताओं को प्रमाणपत्र बितरण किया था । 

कार्यक्रम में नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा के निर्देशक देवेन्द्र गौतम, भलिवल कार्यक्रम संयोजक बिष्णु बहादुर के.सी, नेपाल राष्ट्र बैंक नेपालगन्ज शाखा के कर्मचारियों की सक्रिय सहभागिता में रक्तदान कार्यक्रम सम्पन्न हुआ था । 

नेपाल रेडक्रस सोसाइटी बाँके शाखाद्वारा सञ्चालित प्रादेशिक रक्त सञ्चार सेवा केन्द्र नेपालगन्ज के राजेन्द्र महतारा, होमराज गिरी, महेश रानाक्षेत्री, महेश दहित, केशर सिंह डाँगी और बीरेन्द्र योगी ने प्राविधिक में सहयोग किया था ।



यह भी पढें   नेसपा द्वारा महिन्द्र राय यादव के साथ ही और नेताओं को किया गया निष्कासित

About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: