Tue. Jun 25th, 2024

कोइराला के प्रस्ताव को ओली ने किया अस्वीकार



काठमांडू, वैशाख २० – नेकपा एमाले के अध्यक्ष केपी शर्मा ओली और कांग्रेस नेता डॉ. शेखर कोइराला के बीच मुलाकात हुई है । एमाले अध्यक्ष ओली से मिलने के लिए कांग्रेस नेता कोइराला उनके ही निवास बालकोट पहुँचे । बालकोट स्रोत के अनुसार ओली और कोइराला के बीच बुधवार की रात मुलाकात हुई है ।
मुलाकात में दोनों के बीच पिछले राजनीतिक घटनाक्रम के बारे में चर्चा हुई । नयाँ सत्ता गठबन्धन बनाने के लिए कांग्रेस के नेता एमाले के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं । इसी सिलसिले में कोइराला ने अध्यक्ष ओली से मुलाकात की । इस मुलाकात में कोइराला ने प्रस्ताव रखा कि कांग्रेस और एमाले को मिलकर आगे बढ़ना चाहिए । स्रोत के अनुसार कोइराला ने अध्यक्ष ओली को माओवादी केन्द्र के अध्यक्ष पुष्पकमल दाहाल प्रचण्ड नेतृत्व के सरकार को गिराकर कांग्रेस–एमाले की सरकार बनाने का प्रस्ताव रखा ।
बालकोट स्रोत के अनुसार दाकोइराला ने अध्यक्ष ओली से कहा कि कांग्रेस–एमाले को मिलकर सरकार बनानी चाहिए ताकि देश में स्थायित्व हो । स्थायित्व के लिए हमारा मिलना जरुरी है । लेकिन अध्यक्ष ओली ने उनके प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया ।
बातचीत के ही क्रम में अध्यक्ष ओली ने कोइराला से कहा कि कांग्रेस–एमाले मिलकर सरकार बनाने का समय बीत चुका है । तत्काल सहकार्य की कोई सम्भावना नहीं है । हमने तो पहले प्रयास किया ही था कि कांग्रेस एमाले मिलकर आगे बढ़ते हैं लेकिन आपलोगों ने ही मिलकर आगे बढ़ने के प्रस्ताव को अस्वीकार किया । और अब प्रस्ताव रख रहे हैं साथ  मिलकर चलने का । ओली ने स्पष्ट कहा कि अभी हम सरकार को गिराने के पक्ष में हम नहीं हैं । समय बीत चुका है ।
स्रोत के अनुसार अध्यक्ष ओली ने इस बात का जबाव देते हुए कोइराला ने कहा कि पहले की बातों को भूलकर एक नई शुरुआत करते हैं । लेकिन ओली ने अभी इसपर कुछ विचार नहीं किया है ।
कांग्रेस और एमाले को मिलना चाहिए । इस बात के समर्थक कांग्रेस नेता डा. शशांक कोइराला कुछ दिन पहले ही बुद्धनगर में एमाले उपाध्यक्ष विष्णु पौडेल और उपमहा सचिव प्रदीप ज्ञवाली के सा भी चर्चा की थी ।



About Author

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: