Thu. Oct 17th, 2019

प्रदेश नं. २ में भ्रष्टाचार का लहरः अख्तियार में उजुरी का थाक

१६ अगस्त, जनकपुर । केन्द्रीय सरकार की तरह ही २ नम्बर प्रदेश सरकार ने भी ‘सुशासन और समृद्धि’का नारा लगा रहे हैं परन्तु अख्तियार दुरुपयोग अनुसन्धान आयोग में भ्रष्टाचार का उजुरी देखने के बाद सुशासन का नारा में ही सीमित होने का पुष्टि हो रहा है ।
प्रहरी, निजामति कर्मचारी और जनप्रतिनिधियों ने भ्रष्टाचार में संलग्न आरोपियों को रंगेहाथ कमडने के बाद यह अनुमान लगाया जा सकता है कि २ नं. प्रदेश में भ्रष्टाचार का गन्दगी कितना फैला हुआ है ।
एक वर्ष में तीन हजार से भी ज्यादा भ्रष्टाचार का उजुरी पडा है । सबसे अधिक उजुरी सामान्य प्रशासन के तरफ पडा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *