Sat. Oct 19th, 2019

भारतीय गाड़ी से रंगदारी वसूलते, अलौ वड़ा अध्यक्ष के देवर गिरफ्तार

रेयाज आलम,बीरगंज, भाद्र ३ गते मंगलवार | पर्सा प्रहरी ने अबैध असुली कर रहे, तीन लोगो को पकड़ा। प्रहरी ने बीरगंज के वड़ा न.१७ अलौ में भारतीय गाड़ी रोककर अबैध असुली करते हुए लोगो को पकड़ा। आई.सी.पी. के पास जाँच-पास कराकर जा रहे भारतीय गाड़ियों से अबैध असुली किया जा रहा था। ये लोग प्रति गाड़ी ५०० से १००० रुपया असुल रहे थे। प्रहरी उपरीक्षक सोमेन्द्र सिह राठौर ने बताया की इस कार्य में संलग्न तीन लोगो को पकड़ा गया है।  गिरफ्तार होने वाले में बीरगंज १७ अलौ निवासी बिजय यादब, प्रदिप गुप्ता और मजमिल मियाँ है। हालांकि ये लोग वर्षो से रंगदारी उठाते आरहे है, मगर प्रशासन इन्हे छू भी नहीं पाया, लेकिन प्रहरी उपरीक्षक सोमेन्द्र सिह राठौर ने बड़ी सूझबूझ और दिलेरी से इन्हे रंगे हाथ, घटनास्थल पर पकड़ा।

अनुसंधान से पता चला है की, गिरफ्तार होने वाले बिजय यादव, वडाध्यक्ष सुखरानी देवी के पति वीरेंद्र यादव के भाई है और ये लोग वडाध्यक्ष सुखरानी देवी के इशारे पर रंगदारी उठा रहे थे। ज्ञात हो की आई.सी.पी. से रोज़ाना हजारों भारतीय गाड़ी गुजरती है, उनसे रंगदारी ले कर ये लोग धन कुबेर बन बैठे है। सूत्रों से पता चला है की ये लोग बार्डर के रंगदार होने के कारण भारत-नेपाल में अन्य अवैध कारोबार करते है, जिसमे शराब और तेल की तस्करी तो आम बात है। वार्ड ने इनके खिलाफ व्यापक आक्रोश है। ग़ौरतलब है की कुछ महीने पहले गृह मंत्री ने भारतीय गाड़ी को अनावश्यक परेशान करने करने पर खबरदार किया था, इसके बावज़ूद ये लोग बे ख़ौफ़ रंगदारी उठाते थे।

गिरफ्तार हुए लोगो पर मुक़दमा दायर करके प्रहरी ने, पर्सा ज़िला अदालत के आदेश से सात दिन के न्यायिक हिरासत में रखा है साथ ही इनके अन्य साथियों की खोज तलाश हो रही है। इनके सरगना के पकडे जाने पर इनके कई काले कारनामों से पर्दा उठने वाला है।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *