Sun. Oct 20th, 2019

प्रदेश नं. २ का नामाकरण के लिए ४ नाम प्रस्तावः मधेश, जानकी, मिथिला–भोजपुरा और मध्य–मधेश !

जनकपुर, २३ अगस्त । प्रदेश २ का नामाकरण के लिए प्रदेशसभा मे ४ नाम प्रस्ताव हुआ है । स्थायी राजधानी के लिए जनकपुर और वीरगंज प्रस्तावित है । प्रदेशसभा में प्रतिनिधित्व करनेवाले राजनीतिक पार्टी एवं सांसदों ने अलग–अलग रुप में प्रदेशका नाम और स्थायी राजधानी प्रस्ताव किया है ।
प्रदेशसभा सचिवालय स्रोत के अनुसार सत्तारुढ दल समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय जनता पार्टी (राजपा) की ओर से संयुक्त रुप में ‘मधेश’ प्रदेश प्रस्तावित है । प्रमुख प्रतिपक्षी दल नेपाल कम्युनिष्ट पार्टी (नेकपा) ने ‘जानकी’ प्रदेश प्रस्ताव किया है और दूसरे प्रतिपक्षी दल नेपाली कांग्रेस की ओर से ‘मिथिला–भोपुरा’ प्रदेश प्रस्तावित है । इसीतरह कांग्रेस के ही कुछ सांसदों ने ‘मध्य मधेश’ राखने के लिए भी प्रप्ताव किया है । इसतरह अलग प्रस्ताव रखनेवाले कांग्रेस सांसद् हैं– राजेश्वर प्रस्ताव साह । साह के प्रस्ताव में ओमप्रकाश शर्मा, शंकरप्रसाद चौधरी और आशियादेवी थरुनी समर्थक के रुप में हैं ।
इसीतरह सत्तारुढ दल समाज और राजपा ने प्रदेश की स्थायी राजधानी जनकपुर को ही प्रस्ताव किया है । उसके विकल्प के रुप में पूरे धनुषा जिला एवं जनकपुर परिक्रममा मार्ग आदि भी प्रस्तावित है । धनुषा एवं जनकपुर से बाहर जाकर वीरगंज को स्थायी राजधानी बनाने के लिए भी प्रस्ताव आया है । विशेषतः वीरगंज निवासी सांसदों ने इस तरह का प्रस्ताव किया है । प्रदेश का नाम और स्थायी राजधानी के लिए पार्टी ह्वीप से बारह निकलर ११ सांसदों ने फरक मत पेश किया है ।
कल बिहीबार तक प्रदेश का नाम और स्थायी राजधानी के लिए प्रस्ताव करने का समय था । अब प्रस्तावित नाम और राजधानी को लेकर प्रदेशसभा में विचार–विमर्श होगी । दो–तिहाई बहुमत से जो पास होगा, उसी को वैधानिकता मिलेगी ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

1 thought on “प्रदेश नं. २ का नामाकरण के लिए ४ नाम प्रस्तावः मधेश, जानकी, मिथिला–भोजपुरा और मध्य–मधेश !

  1. Rajdhani bole to esi place Ko baana na chaea ja se maximum number of people ko facilities ho…
    Na ki kux logo k lea bs banado…
    Koi vi law and decision soch samx kar lena chahea….
    Jise aage aane wale samay Ko vark na pare…..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *