Sun. Jul 12th, 2020

धर्मगुरु कृष्णदास महाराज के ऊपर बलात्कार आरोप ! गिरफ्तार के बदले पुलिस सुरक्षा

  • 3
    Shares

विराटनगर, ३० नवम्बर । कृष्णदास महाराज नाम से परिचित धर्मगुरु कृष्णदास गिरी के ऊपर एक महिला ने बलात्कार आरोप लगाई है । पीडित महिला ने जिला पुलिस कार्यालय सुनसरी में कृष्णदास के विरुद्ध उजुरी पंजीकृत की है । उनके अनुसार कृष्णदास ने गत कार्तिक ४ गते उनके ऊपर बलात्कार किया है ।
बलात्कार आरोप में पुलिस में शिकायद दर्ज होने के बाद धर्मगुरु कृष्णदास महाराज विराटनगर स्थित विराट नर्सिक होम में भर्ती हुए हैं । हॉर्ट संबंधी समस्या को देखाकर वह नर्सिङ होम में उपचारत हैं । स्मरणीय है, बलात्कार आरोपी को गिरफ्तार करने के बदले पुलिस ने उनको उच्च सुरक्षा प्रदान की है ।

यह भी पढें   विश्व स्वास्थ्य संगठन से औपचारिक रुप से अमेरिका हटा


राष्ट्रपति विद्यादेवी भण्डारी, प्रदेश नं. १ के मुख्यमन्त्री शेरधन राई, पूर्वसभामुख कृष्णबहादुर महरा सहित कई उच्च पदस्थ नेता एवं पुलिस अधिकारियों के साथ गहरा संबंध होने के कारण पुलिस प्रशासन कृष्णदास को गिरफ्तार करने में हिचक रही है । पुलिस ने कहा है कि अदालती आदेश प्राप्त न होने के कारण उनको गिरफ्तार नहीं की गई है, आइतबार तक गिरफ्तार किया जाएगा । स्मरणीय है कि अगर सर्वसाधारण किसी के ऊपर बलात्कार आरोप लग जाता है तो पुलिस तत्काल गिरफ्तार करती है ।
इसीतरह इधर कृष्णदास की ओर से एक सन्देश भी प्रभावित हो रहा है, जो पीडित कहलानेवाली महिला के साथ संबंधित है । कृष्णदास के भक्तों की ओर से सार्वजनिक सन्देश पीडित कहलानेवाली महिला की फेशबुक मैसेज है, जो उन्होंने कृष्णदास को लिखी है । मैसेज में महिला ने लिखी है, वह कृष्णदास को प्रेम करती है, पति मानती है । महिला ने यह भी लिखी है कि कृष्णदास उनको स्वीकार करें । कृष्णदास के भक्तों का कहना है कि वह महिला लगभग एक साल से कृष्णदास को यह मैसेज भेज रही थी, जब कृष्णदास ने अस्वीकार किया तो बलात्कार संबंधी आरोप लगाई है ।
स्मरणीय है, कृष्णदास महाराज के हजारों भक्त है, उन्होंने सुनसरी जिला चतराधाम में १ सौ २८ रुम की एक भव्य महल भी निर्माण किया है, जो कानूनतः अवैधानिक बताया जाता है । लेकिन स्थानीयबासियों का कहना है कि उच्च राजनीतिक एवं प्रशासनिक पहुँच होने के कारण उनके ऊपर कोई भी कारवाही नहीं हो रहा है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
%d bloggers like this: